पूरा ब्राज़ील शर्मनाक हार के सदमे में

ब्राज़ील के एक प्रशंसक इमेज कॉपीरइट AFP

ब्राज़ील की राष्ट्रपति जील्मा रूसेफ़ ने ब्राज़ील के लोगों से कहा है कि वे जर्मनी के हाथों मिली 7-1 की हार से उबरें.

जील्मा रूसेफ़ ने ट्वीट किया, "ब्राज़ील के सभी लोगों की तरह मैं भी हार से बहुत दुखी हूं लेकिन हम ख़ुद को टूटने नहीं देंगे."

राष्ट्रपति रूसेफ़ ने लिखा, "मुझे अपने सभी खिलाड़ियों और प्रशंसकों के लिए बुरा लग रहा है."

रूसेफ़ ने ब्राज़ील के लोगों से कहा है कि वे "धूल झाड़कर उठ खड़े हों और ऊँचाइयों तक पहुँचें."

ब्राज़ील की टीम के कोच लुइस फ़िलिपे स्कोलारी ने हार को 'जीवन का सबसे बुरा दिन' बताया है.

वहीं ब्राज़ील के मीडिया ने इस हार को 'ऐतिहासिक अपमान' कहा है.

'सबसे बुरी हार'

ये हार विश्व कप में ब्राज़ील की सबसे बुरी हार है.

कुछ लोगों का अनुमान है कि ब्राज़ील की टीम के बुरे प्रदर्शन का असर इस साल अक्तूबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में रूसेफ़ की उम्मीदों पर असर डाल सकता है.

इमेज कॉपीरइट AP

फ़ोल्हा डी साओ पअलो अख़बार में एक कॉलम में कहा गया है, "ब्राज़ील की ऐतिहासिक हार ने जील्मा रूसेफ़ की सरकार को एक चेतावनी भरा संकेत दिया है. हार से उपजा ख़राब मूड अर्थव्यवस्था और उनके प्रचार अभियान पर असर डाल सकता है."

इमेज कॉपीरइट AP

जर्मनी की टीम ने सेमीफ़ाइऩल में सिर्फ़ 29 मिनट में 5-0 की बढ़त बना ली थी और दूसरे हाफ़ में उसने दो गोल और किए.

इमेज कॉपीरइट Getty

फ़ाइनल में जर्मनी का मुकाबला अर्जेंटीना और नीदरलैंड्स के बीच होने वाले दूसरे सेमीफ़ाइनल के विजेता से होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार