धोनी की तारीफ़, कुक को हटाने की मांग

  • 21 जुलाई 2014
महेंद्र सिंह धोनी, ईशांत शर्मा, एलिएस्टर कुक Image copyright Getty

इंग्लैंड पर शानदार जीत के बाद जहां भारतीय टीम और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तारीफ़ हो रही है वहीं इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टर कुक को हटाने की मांग हो रही है.

इस जीत के बाद भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने खिलाड़ियों की तारीफ़ करते हुए कहा, "हम सबने कड़ी मेहनत की. खिलाड़ियों ने जिस दृढ़ निश्चय और प्रतिबद्धता का परिचय दिया उसी का परिणाम है कि हम जीत गए. देश से बाहर जीत हासिल करना हमेशा खास होता है."

जहां धोनी की कप्तानी को सराहना मिल रही है वहीं इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टर कुक को लगातार आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मनिंदर सिंह ने कहा, "धोनी ने लगातार इंग्लैंड की टीम पर दबाव बनाए रखा. और इसी दबाव में इंग्लैंड की टीम बिखर गई."

भारत ने इससे पहले लॉर्ड्स में 1986 में इंग्लैंड को हराया था और मनिंदर सिंह उस टीम में शामिल थे.

पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव ने भी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी की तारीफ़ की.

Image copyright The Press Association
Image caption इंग्लैंड के कप्तान एलिएस्टर कुक को हटाने की मांग हो रही है.

मशहूर क्रिकेट प्रसारक और पूर्व क्रिकेटर जोनाथन एगन्यू ने भी धोनी की तारीफ़ों के पुल बांधे.

लेकिन इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टर कुक को ज़बरदस्त आलोचना झेलनी पड़ रही है. देखते हैं कुक के बारे में किसने क्या कहा.

जेफ़्री बॉयकॉट, पूर्व क्रिकेटर, इंग्लैंड

"सिर्फ़ कुक, उनकी बीवी और उनका परिवार चाहते हैं कि वो कप्तान बने रहें. और कोई उन्हें नहीं चाहता. वो एक ज़िद्दी की तरह बर्ताव कर रहे हैं. शायद उन्हें लग रहा है कि कप्तानी छोड़ना कमज़ोरी की निशानी है. जबकि ऐसा नहीं है. ये मज़बूती की निशानी होगी."

माइकल वॉन, पूर्व क्रिकेटर, इंग्लैंड

"कुक से कप्तानी वापस लेने का ये बिलकुल सही वक़्त है. उनकी जगह मॉर्गन को कप्तान बनाना चाहिए. वो आक्रामक खिलाड़ी हैं. और जो भी होगा कम से कम वो कुक से बेकार तो साबित नहीं ही होंगे. कुक ने 27 टेस्ट पारियों में एक भी शतक नहीं बनाया है. पिछले पांच टेस्ट मैचों में उन्होंने महज़ 14.33 की औसत से रन बनाए हैं."

नासिर हुसैन, पूर्व क्रिकेटर, इंग्लैंड

"एलेस्टर कुक को अपने आप से पूछना चाहिए कि वो बतौर कप्तान टीम को क्या योगदान दे पा रहे हैं. उनके आंकड़े उन्हें ख़ुद ही जवाब दे देंगे."

ग्रेम स्वान, इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर

Image copyright Reuters

"एलेएस्टर कुक लाजवाब खिलाड़ी और बेहद मज़बूत इंसान हैं. वो दृढ़ इच्छा शक्ति वाले हैं. जहां तक मैं उन्हें जानता हूं वो ज़बरदस्त वापसी करेंगे."

लेकिन एलेस्टर कुक ने कहा है कि वो फ़िलहाल कप्तानी नहीं छोड़ने वाले.

लॉर्ड्स टेस्ट के बाद उन्होंने कहा, "सिरीज़ के बीच में कप्तानी छोड़ना बिलकुल ग़लत होगा. मैं ऐसा नहीं करने वाला."

पिछले साल एशेज़ टेस्ट में जीत हासिल करने के बाद से एलेस्टर कुक की कप्तानी में इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया से 0-5 से और श्रीलंका से 1-0 से इंग्लैंड में ही हार चुका है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार