साइना को अब तक नहीं मिली ओलंपिक मेडल की रकम

साइना नेहवाल इमेज कॉपीरइट AP

टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा को तेलंगाना का ब्रांड एबेंसडर बनाने से उठे विवाद के बीच मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने कहा है कि वो अपने साथ हुए बर्ताव से दुखी हैं.

साइना ने कहा है कि वो सानिया मिर्ज़ा को तेलंगाना का ब्रांड एंबेसडर बनाने से खुश हैं लेकिन ओलंपिक में पदक जीतने पर जो रकम उन्हें देने का वादा किया गया था वो अब तक नहीं मिली.

साइना ने ट्विटर पर कहा, "मुझे जानकर खुशी हुई कि सानिया मिर्ज़ा तेलंगाना की ब्रांड एंबेसडर बनी हैं और मुझे तेलंगाना पर गर्व है लेकिन मैं आहत और दुखी हूं कि मुझे अब तक अपने राज्य से देश के लिए ओलंपिक का कांस्य पदक जीतने के लिए नकद इनाम नहीं मिला है."

सानिया पर विवाद

मंगलवार को तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने 27 वर्षीया सानिया मिर्ज़ा को राज्य का ब्रांड एंबेसडर बनाया था.

इमेज कॉपीरइट PTI

सानिया को राज्य सरकार ने एक करोड़ रुपए भी दिए हैं.

तेलंगाना विधान सभा में भारतीय जनता पार्टी के नेता के लक्ष्मण ने सानिया मिर्ज़ा को 'पाकिस्तान की बहू' क़रार दिया था और उनको यह सम्मान दिए जाने पर सवाल उठाया था.

हालांकि सानिया का कहना है कि वो मरते दम तक भारतीय रहेंगी.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार