मैच फ़िक्सिंग पर न्यूज़ीलैंड का कठोर रुख़

Lou Vincent इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption मैच-फिक्सिंग के लिए पूर्व बल्लेबाज़ लू विन्सेंट पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया है.

न्यूज़ीलैंड में सांसदों ने उस विधेयक का समर्थन किया है जिसमें मैच-फ़िक्सिंग के लिए सात वर्ष तक क़ैद की सज़ा हो सकती है.

न्यूज़ीलैंड अगले वर्ष ऑस्ट्रेलिया के साथ क्रिकेट विश्वकप की संयुक्त मेज़बानी कर रहा है.

इस विधेयक में मैच फ़िक्सिंग को अपराध की तरह परिभाषित किया गया है.

देश के खेल मंत्री मूरी मैक्कुली का कहना है कि मैच फ़िक्सिंग को ''क्रिकेट के मूल्यों और उसकी अखंडता के लिए सबसे बड़े ख़तरे'' के तौर पर परिभाषित किया गया है.

साल के आख़िर तक लागू

उन्होंने एक बयान में कहा, ''जैसा कि हमने हालिया आयोजनों में देखा है, न्यूज़ीलैंड इस ख़तरे से बचा नहीं है. यही वजह है कि सरकार इस मामले में कार्रवाई कर रही है.''

यह विधेयक संसद में पारित हो चुका है और इस वर्ष के आख़िर तक क़ानून के तौर पर लागू हो सकता है.

अगले वर्ष फ़रवरी में क्रिकेट विश्व कप का आयोजन हो रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार