इनमें है रियो में चमकने का दम

ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में ब्रिटेन के कई खिलाड़ियों ने उम्दा प्रदर्शन किया और पदक जीते. बीबीसी ने ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों को पहचाना है जो 2016 के रियो ओलंपिक खेलों में पदक के मजबूत दावेदार हो सकते हैं.

कैटी आर्किबाल्ड

इमेज कॉपीरइट PA

20 वर्षीय कैटी ने सिर्फ़ तीन साल पहले ही साइक्लिंग को गंभीरता से लेना शुरू किया. ग्लासगो राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने वेलोड्रोम स्पर्धा में कांस्य पदक जीता.

क़ैस असफ़ाक़

इमेज कॉपीरइट Getty

21 वर्षीय मुक्केबाज़ असफ़ाक़ 2004 के एथेंस ओलंपिक खेलों में हिस्सा ले चुके आमिर ख़ान को अपना हीरो मानते हैं. ग्लासगो में भले ही असफ़ाक़ अंकों के मामूली अंतर से गोल्ड गंवा बैठे थे.

एंथनी फ्लावर

इमेज कॉपीरइट PA

एंथनी ने ग्लासगो में एकतरफ़ा मुक़ाबले में भारत के विजेंदर को हराकर गोल्ड जीता है. 75 किलो भार वर्ग में 23 वर्षीय एंथनी अभी दुनिया के आठवें नंबर के मुक्केबाज़ हैं.

क्लाउडिया फ्रेगपेन

इमेज कॉपीरइट PA

16 वर्षीय इस जिम्नास्ट ने ग्लासगो में चार गोल्ड मेडल जीतकर ऐसा कारनामा किया जो ब्रिटेन का कोई भी खिलाड़ी राष्ट्रमंडल खेलों के 84 साल के इतिहास में नहीं कर सका था.

डेनियल जर्विस

इमेज कॉपीरइट PA

जर्विस ने 1500 मीटर तैराकी स्पर्धा में कांस्य पदक हासिल किया और इस स्पर्धा में ऑस्ट्रेलियाई दबदबे को चुनौती दी.

जेक लॉफर

इमेज कॉपीरइट PA

स्प्रिंगबोर्ड के इस माहिर तैराक ने दो गोल्ड और एक रजत पदक जीता. 2004 ओलंपिक खेलों की रजत पदक विजेता लियोन टेलर का कहना है, "उसमें बहुत क्षमताएं हैं"

रॉस मर्डोक

इमेज कॉपीरइट Getty

स्कॉटलैंड के 20 वर्षीय तैराक मर्डोक ने 200 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक स्पर्धा में गोल्ड जीता. वह विश्व रिकॉर्डधारी जापान के अकिहिरो यामागुची के रिकॉर्ड के काफी नजदीक हैं.

सिओभान- मेरी ओ कॉनर

इमेज कॉपीरइट Getty

ओ कॉनर ने ग्लासगो में कुल मिलाकर छह पदक जीते, इसमें 200 मीटर मेडले स्पर्धा का गोल्ड भी शामिल है. राष्ट्रमंडल खेलों के चार बार के चैंपियन कारेन पिकरिंग ने कहा, "वह प्रतिभा की धनी हैं और अभी उनका सर्वश्रेष्ठ आना बाकी है."

एडम पीटे

इमेज कॉपीरइट Getty

19 वर्षीय इस तैराक ने 100 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता. दो बार की ओलंपिक चैंपियन रेबेका एडलिंग्टन का कहना है कि पीटे निश्चित तौर पर रियो ओलंपिक में पदक जीतेंगे.

बेंजमिन प्राउड

इमेज कॉपीरइट Getty

प्राउड ने 50 मीटर बटरफ्लाई स्पर्धा में तरणताल से सोना निकालकर सभी को चौंका दिया. उन्होंने कुल मिलाकर दो गोल्ड जीते. 19 वर्षीय बेंजमिन दो साल पहले ही मलेशिया से ब्रिटेन आए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार