भारतीय पारी 148 पर सिमटी

महेंद्र सिंह धोनी इमेज कॉपीरइट AFP

इंग्लैंड के ख़िलाफ़ ओवल में पांचवें और अंतिम क्रिकेट टेस्ट मैच के पहले दिन भारत की पहली पारी 148 रन पर सिमट गई.

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कुछ 'साहस' दिखाया और दसवें विकेट के लिए इशांत शर्मा के साथ रिकॉर्ड 58 रन की साझेदारी की.

टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाज़ी कर रही भारतीय पारी चायकाल के कुछ समय बाद ही सिमट गई.

मेहमान टीम ने चायकाल तक 9 विकेट खोकर 125 रन बना लिए थे.

बल्लेबाज़ नाकाम

इमेज कॉपीरइट AFP

मेहमान टीम का शीर्ष बल्लेबाज़ी क्रम एक बार फिर असफल रहा और चोटी के पांच बल्लेबाज़ सिर्फ़ 36 रन के योग पर ही पैवेलियन लौट गए.

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ विकेट पर टिकने का साहस नहीं दिखा सका. धोनी ने 82 रन की साहसिक पारी खेली और इस दौरान 15 चौके और एक छक्का लगाया.

भारतीय बल्लेबाज़ों के निराशाजनक प्रदर्शन का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सिर्फ़ तीन ही बल्लेबाज़ दहाई का आंकड़ा छू सके.

मुरली विजय और गौतम गंभीर की सलामी जोड़ी एक बार फिर टीम को अच्छी शुरुआत देने में असफल रही.

बाएं हाथ के बल्लेबाज़ गंभीर सिर्फ़ चार गेंद ही खेल सके और बगैर ख़ाता खोले पैवेलियन लौट गए. उन्हें तेज़ गेंदबाज़ एंडरसन की गेंद पर विकेटकीपर बटलर ने लपका.

इमेज कॉपीरइट AP

चेतेश्वर पुजारा की इंग्लैंड दौरे में नाकामी का सिलसिला ओवल में भी जारी रहा. क्रिस ब्रॉड ने पुजारा को चार रन के निजी स्कोर पर बोल्ड किया.

विराट कोहली (6 रन) और आजिंक्य रहाणे (शून्य) भी पैवेलियन लौटने की जल्दी में रहे.

कुछ देर विकेट पर टिके रहने का जज़्बा दिखाने के बाद मुरली विजय ने भी हाथ खड़े कर दिए. उन्होंने 64 गेंदों पर 18 रन बनाए.

इंग्लैंड की तरफ से क्रिस जॉर्डन और क्रिस वॉक्स ने सबसे अधिक तीन-तीन विकेट लिए. ब्रॉड और एंडरसन ने दो-दो खिलाड़ियों को आउट किया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार