आईओए पर 10 हज़ार डॉलर का जुर्माना

आईओए प्रेसिडेंट नारायण रामचंद्रन इमेज कॉपीरइट AFP

एशियाई ओलंपिक परिषद ने इंचियोन एशियाई खेलों के लिए समयसीमा बीत जाने के बावजूद खिलाड़ियों के नाम वापस लेने पर भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) पर 10 हज़ार डॉलर का जुर्माना लगाया है.

परिषद का कहना है कि आईओए ने पहले जिन खिलाड़ियों की सूची दी थी, बाद में भारतीय खेल मंत्रालय से कुछ खिलाड़ियों के नामों को मंज़ूरी नहीं मिलने पर उन खिलाड़ियों के नाम वापस ले लिए गए.

अंतिम तारीख़ के बाद नाम वापस लेने से अन्य देशों की टीमों के कार्यक्रम पर असर पड़ा, लिहाजा काउंसिल ने आईओए पर जुर्माना लगाया है.

परिषद की आम सभा की बैठक के बाद कार्यकारी बोर्ड ने जुर्माना लगाने का फ़ैसला किया.

'शायद जुर्माना न हटे'

आईओए के संयुक्त सचिव राकेश गुप्ता ने जुर्माने की पुष्टि करते हुए कहा कि बैठक में जुर्माना नहीं लगाने की अपील की गई थी, हालाँकि उन्होंने आशंका जताई कि आईओए पर लगा जुर्माना शायद न हटे.

इमेज कॉपीरइट no credit

उन्होंने कहा कि आईओए ने भारतीय खेल मंत्रालय को क़रीब तीन हफ़्ते पहले ही बता दिया था कि अंतिम तारीख़ के बाद खिलाड़ियों के नाम वापस लेने से आईओए पर जुर्माना लग सकता है.

इतना सब होने के बाद भी चार और भारतीय खिलाड़ी सोमवार को इंचियोन आ रहे हैं.

राकेश गुप्ता का कहना है कि अब समस्या यह है कि खिलाड़ी रहेंगे कहाँ क्योंकि गेम्स विलेज में रहने के लिए मंज़ूरी लेने की अंतिम तारीख़ तो निकल चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार