मुक्केबाज़ सरिता का पदक लेने से इनकार

सरिता देवी इमेज कॉपीरइट AFP

इंचियोन में महिलाओं के 60 किलोग्राम वर्ग में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय महिला मुक्केबाज़ एल सरिता देवी ने पदक समारोह के दौरान कांस्य पदक लेने से इनकार कर दिया.

वह सेमीफ़ाइनल मुकाबले में दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी पार्क जीना के हाथों विवादित तरीके से हार गई थीं.

उस मुकाबले के बाद उन्होंने कहा था कि वह अपना पदक रिंग में फेंककर आएंगी.

क्या है पूरा मामला

इंचियोन एशियाई खेलों के सेमीफ़ाइनल में हारने के बाद सरिता देवी को कांस्य पदक मिला था.

लेकिन जब उनके गले में मेडल पहनाने की बारी आई तो उन्होंने मेडल पहनने से इनकार करते हुए मेडल हाथ में ले लिया.

इसके बाद उन्होंने अपना मेडल कोरियाई खिलाड़ी पार्क जीना के गले में डाल दिया.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption सरिता देवी विवादास्पद फ़ैसले के विरोध में ने कांस्य पदक स्वीकार नहीं किया.

कोरियाई खिलाड़ी ने जब उनका मेडल वापस किया तो उन्होंने मेडल को वापस विनिंग स्टैंड पर रख दिया.

खेल के आयोजकों ने वहां से मेडल मंगवा लिया. इसके बाद वहां हंगामा होने लगा कि सरिता का मेडल चोरी हो गया.

उनके इस व्यवहार के कारण उनके ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई हो सकती है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार