कोहली करेंगे टेस्ट में कप्तानी

क्रिकेट, भारत, महेंद्र सिंह धोनी, वरुण एरॉन इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption (फ़ाइल फ़ोटो)

बीसीसीआई ने सोमवार को आगामी ऑस्ट्रेलियाई दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान कर दिया है.

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैच खेलेगी. दौरे की शुरूआत चार दिसंबर को ब्रिस्बेन में पहले टेस्ट मैच से होगी.

भारतीय टीम की कमान पहले टेस्ट मैच में विराट कोहली संभालेंगे. भारत के नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हाथ में चोट के कारण पहले टेस्ट मैच से बाहर रहेंगे.

इस टीम में नए चेहरे के रूप में कर्नाटक के 22 वर्षीय बल्लेबाज़ केएल राहुल को जगह दी गई है. उन्होंने पिछले रणजी सीज़न में 1,035 रन ठोके थे.

उनके अलावा लेग स्पिनर कर्ण शर्मा को भी टीम में जगह मिली है. भारत के लिए एक अंतराष्ट्रीय टवेंटी-टवेंटी मैच खेल चुके कर्ण शर्मा ने बीते आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए 13 मैचों में 11 विकेट चटकाए थे. वो अब तक 61 आईपीएल मैचों में 45 विकेट ले चुके हैं.

रैना की वापसी

इमेज कॉपीरइट AFP

टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज़ नमन ओझा भी शामिल हैं. उन्होंने पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत-ए के लिए खेलते हुए तीन शतक जमाए थे.

भारतीय टीम के चयन को लेकर पूर्व सलामी बल्लेबाज़ आकाश चोपड़ा कहते हैं कि थोड़ी सी हैरानी ज़रूर है कि 19 खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया जा रहे हैं.

टीम में पांच तेज़ गेंदबाज़ हैं तीन स्पिनर हैं और आठ बल्लेबाज़ हैं. सुरेश रैना की वापसी हुई है. लगता हैं कि चयनकर्ता पिछले दौरे को ध्यान में रख रहे हैं कि अगर बल्लेबाज़ी में कुछ गड़बड़ हो तो बदलाव आसानी से हो सके.

टी-20 से टेस्ट तक

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption (फ़ाइल फ़ोटोः सुरेश रैना एक एकदिवसीय मैच के दौरान)

दूसरी तरफ जाने-माने क्रिकेट समीक्षक प्रदीप मैगज़ीन कहते हैं कि टीम में तो जाने-पहचाने और सर्वश्रेष्ठ चेहरे हैं.

इसके बावजूद कर्ण शर्मा के रूप में एक आईपीएल स्पिनर को ऑस्ट्रेलिया जैसी टीम के ख़िलाफ टेस्ट में मौक़ा देना कहां तक जायज है?

प्रदीप मैगज़ीन कहते हैं कि यह ताज्जुब की बात हैं कि धोनी की चोट को छुपा कर रखा गया. हो सकता है कि चयनकर्ता विराट कोहली को टेस्ट मैच में कप्तान के रूप में आज़माना चाहते हो.

अगर कोहली पहले टेस्ट मैच में कामयाब होते हैं तो धोनी को टेस्ट मैच से आराम दिए जाने की भी खूब चर्चा होगी.

वहीं आकाश चोपड़ा कहते हैं कि अभी कामयाब नज़र आने वाले चेहरे टेस्ट सिरीज़ में नाकामयाब हो गए तो सारे समीकरण बदल जाएंगे.

इमेज कॉपीरइट AP

भारत चार टेस्ट मैचों की पिछली सिरीज़ में चारों मैच हार गया था. विश्व कप से पहले इसके परिणाम का टीम के मनोबल पर गहरा असर पड़ेगा.

अब देखना हैं कि आधे-अधूरे फिट तेज़ गेंदबाज़ों और पुरानी नाकाम यादों के बीच भारतीय टीम अपने बल्लेबाज़ों के दम पर ऑस्ट्रेलिया का सामना कैसे करती है.

ऑस्ट्रेलिया दौर के लिए भारतीय टीम

महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), विराट कोहली, शिखर धवन, मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, सुरेश रैना, रिद्धिमान साहा, नमन ओझा, आर अश्विन, कर्ण शर्मा, रविंद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा, उमेश यादव और वरूण एरॉन.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार