कितनी बार 300 रन का चमत्कार!

एरोन फ़िंच इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

क्रिकेट विश्व कप के इतिहास में रनों का ऐसा अंबार पहले कभी नहीं लगा जैसा इस बार हुआ है. गेंदबाज़ों की शामत सी आ गई है और बल्लेबाज़ जमकर रन बटोर रहे हैं.

विश्व कप 2015 में अभी पाँच मुक़ाबले हुए हैं और छह टीमें 300 से अधिक रन स्कोरबोर्ड पर टांग चुकी हैं.

नया रिकॉर्ड

इमेज कॉपीरइट AP

दिलचस्प बात ये है कि पहले बल्लेबाज़ी करने वाली सभी टीमों ने 300 रन से अधिक का स्कोर बनाया है.

शुरुआती पाँच मैचों में इतने बड़े स्कोर बनने का ये नया रिकॉर्ड है.

टीम स्कोर विपक्षी टीम
न्यूज़ीलैंड 331/6 श्रीलंका
ऑस्ट्रेलिया 342/9 इंग्लैंड
दक्षिण अफ्रीका 339/4 ज़िम्बॉब्वे
भारत 300/7 पाकिस्तान
वेस्टइंडीज़ 304/7 आयरलैंड

हालाँकि सोमवार को आयरलैंड ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 300 रन बनाकर मैच जीतने के सिलसिले को रोका. आयरलैंड ने छह विकेट पर 307 रन बनाकर इस विश्व कप का पहला उलटफेर किया.

गेंदबाज़ हावी

इमेज कॉपीरइट REUTERS

पहला विश्व कप 1975 में खेला गया था और क्रिकेट के इस महाकुंभ में कुल मिलाकर चार बार एक पारी में 300 से अधिक रन बने थे. याद रहे कि तब वनडे मुक़ाबले 60-60 ओवरों के होते थे.

1979 के दूसरे विश्व कप में कोई भी टीम 300 रन या इससे अधिक का स्कोर नहीं बना सकी.

भारत ने 1983 का विश्व कप जीता था और तब सिर्फ़ चार टीमें ही 300 या इससे अधिक रन बना सकी थी.

भारतीय ज़मीन पर खेले गए 1987 के विश्व कप में दो टीमों ने 300 रन से अधिक का आंकड़ा हासिल किया.

वनडे के नियमों में फेरबदल और बल्लेबाज़ों का बोलबाला बढ़ने पर स्कोरबोर्ड पर बड़े स्कोर दिखना भी आम होता चला गया.

बल्लेबाज़ों का बोलबाला

इमेज कॉपीरइट AFP

1992 में दो बार, 1996 में पाँच बार, 1999 में दो बार, 2003 में नौ बार, 2007 में 16 बार और 2011 में 17 बार एक पारी में 300 रन या इससे अधिक का स्कोर बना.

तो क्या ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड की विकेट अचानक बल्लेबाज़ों के माकूल हो गई हैं जहाँ बल्लेबाज़ जब चाहे-जहाँ चाहे गेंदबाज़ों को धुन रहे हैं ?

इमेज कॉपीरइट Reuters

1992 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड की धरती पर हुए विश्व कप में सिर्फ़ दो टीमें ही 300 रन से अधिक का स्कोर बना सकी थी. वो भी एक ही मैच में.

ज़िम्बाब्वे ने 4 विकेट पर 312 रन बनाए थे, जवाब में श्रीलंका ने 7 विकेट पर 313 रन बनाकर मैच जीत लिया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार