स्कॉटलैंड ने न्यूज़ीलैंड को नाकों चने चबवाए

इमेज कॉपीरइट Getty

विश्वकप क्रिकेट के पूल ए के मुक़ाबले में मेज़बान न्यूज़ीलैंड ने स्कॉटलैंड को तीन विकेट से हरा दिया है.

न्यूज़ीलैंड की यह लगातार दूसरी जीत है. अपने पहले मैच में न्यूज़ीलैंड ने श्रीलंका को 98 रन से शिकस्त दी थी.

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए स्कॉटलैंड की पूरी टीम 36.2 ओवरों में 142 रनों पर सिमट गई थी.

ट्रेंट बोल्ट को मैन ऑफ़ द मैच के ख़िताब से नवाज़ा गया.

स्कोरबोर्ड पर न्यूज़ीलैंड को लक्ष्य आसान दिख रहा था, लेकिन इसे हासिल करने के लिए उसे सात विकेट गंवाने पड़े.

बहरहाल, न्यूज़ीलैंड ने 24.5 ओवरों में 7 विकेट पर 146 रन बनाकर मैच जीत लिया.

गेंदबाज़ हावी

इमेज कॉपीरइट Getty

क्रिकेट के इस महाकुंभ में पहली बार बल्लेबाज़ों पर गेंदबाज़ हावी दिखे.

ड्यूनेडिन में खेले गए इस मैच में न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीतकर स्कॉटलैंड को पहले बल्लेबाज़ी की दावत दी.

नई गेंद पर सीधे बल्ले से खेलने की स्कॉटलैंड के बल्लेबाज़ों की कमज़ोरी का न्यूज़ीलैंड के गेंदबाज़ों ने फ़ायदा उठाया.

स्कॉटलैंड के चार बल्लेबाज़ महज 12 रन के योग पर ही पैवेलियन लौट गए थे.

डेनियल वेट्टोरी और कोरी एंडरसन ने तीन-तीन विकेट लिए, जबकि टिम साउदी और ट्रेंट बोल्ट ने स्कॉटलैंड के दो-दो बल्लेबाज़ों को आउट किया.

गोल्डन डक

इमेज कॉपीरइट Getty

स्कॉटलैंड के चार बल्लेबाज गोल्डन डक यानी पहली ही गेंद पर आउट हुए.

वनडे इंटरनेशनल मैचों के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब चार बल्लेबाज़ गोल्डन डक हुए हों.

गोल्डन डक वाले बल्लेबाज़ थे कॉम मैकलॉयड, एच गार्डिनर, कप्तान पी मोमसेन और इयान वार्डलॉ.

न्यूज़ीलैंड जूझा

इमेज कॉपीरइट AFP

छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूज़ीलैंड की टीम मैच जल्द से जल्द ख़त्म करने की आपाधापी में दिखी.

मार्टिन गुप्टिल (15) और कप्तान ब्रैंडन मैकुलम (15) टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दे सके और पहले विकेट के लिए सिर्फ़ 18 रन जोड़े.

बाद में विलियमसन (38), इलियट (29) ने टीम को मंझधार से निकलकर लक्ष्य तक पहुँचा दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार