हैदराबाद से है दिल्ली का मुकाबला

दिल्ली डेयरडेविल्स इमेज कॉपीरइट PTI

आईपीएल-8 में शनिवार के दूसरे मुक़ाबले में दिल्ली डेयरडेविल्स का सामना सनराइज़र्स हैदराबाद से होगा.

सनराइज़र्स हैदराबाद ने अभी तक खेले गए 10 में से 5 मैच मैच जीतकर अपने आपको प्ले ऑफ में पंहुचाने की उम्मीदों को बनाए रखा है.

दूसरी तरफ़ दिल्ली डेयरडेविल्स के तेवर इस बार भी ढीले ही हैं और वह 11 में से 7 मैच हारकर अपनी प्रतिष्ठा भी खो चुकी है.

दिल्ली डेयरडेविल्स पिछली बार भी 14 में से केवल 2 मैच ही जीत सकी थी.

इस बार दिल्ली ने टीम की कमान जेपी डूमिनी को सौंपी, लेकिन उसे सबसे बड़ा झटका तो लीग के शुरू होने से पहले ही तब लगा जब तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी चोटिल होकर बाहर हो गए.

बल्लेबाजी और गेंदबाजी

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption जेपी डुमिनी (नीचे) के कप्तान बनाए जाने से भी दिल्ली की किस्मत पर कोई असर नहीं हुआ.

दूसरा झटका दिल्ली को अनुभवी ज़हीर ख़ान की ख़राब फिटनेस से भी लगा. ज़हीर खान अभी तक केवल चार मैच खेल सके हैं और उन्हें केवल चार विकेट हासिल हुए हैं.

पिछले तीन मैचों में तो दिल्ली को हार का सामना भी करना पड़ा है. युवराज सिंह ने मुंबई के ख़िलाफ 57 रन बनाकर थोड़ा दम-ख़म ज़रूर दिखाया, लेकिन अगले ही मैच में कोलकाता के ख़िलाफ उनका खाता तक नहीं खुला.

मध्यम क्रम में युवराज सिंह बिलकुल नहीं चल सके हैं. एक दो अर्धशतक बनाना आलोचकों को जवाब देना नहीं कहा जा सकता.

इमेज कॉपीरइट AFP

गेंदबाज़ी में दिल्ली को लेग स्पिनर दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर और अमित मिश्रा ने काफी हद तक बचाया लेकिन कमज़ोर बल्लेबाज़ी टीम को डुबो रही है.

इमरान ताहिर अभी तक 15 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. वैसे पिछले चार मैचों में उनका जादू भी थोड़ा फीका रहा है और उन्हें केवल 2 विकेट ही मिल सके हैं.

वार्नर की टीम ख़तरनाक

सनराइज़र्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर और शिखर धवन की सलामी जोड़ी तो आक्रामक होने के कारण बेहद ख़तरनाक मानी जाती है, लेकिन अब उनके इयान मोर्गन भी अपने हाथ दिखा रहे हैं.

मोर्गन ने पिछले मैच में राजस्थान के ख़िलाफ बेहद उपयोगी 63 रन बनाए तो चेन्नई के ख़िलाफ़ भी नाबाद 32 रन बनाए.

ऐसी पारियों की मदद से हैदराबाद ने चेन्नई के ख़िलाफ 7 विकेट खोकर 192 और राजस्थान के ख़िलाफ़ तो केवल 4 विकेट खोकर 201 रन जैसा बड़ा स्कोर बनाया.

इमेज कॉपीरइट PTI

डेविड वार्नर इस सीज़न में अभी तक 406 रन बना चुके हैं. शिखर धवन ने भी पिछले मैच में केवल 35 गेंदो पर 52 रन बनाए.

गेंदबाज़ी में प्रवीण कुमार और भुवनेश्वर कुमार का साथ देने अब ईशांत शर्मा भी आ गए है.

आंकड़ों में दिल्ली और हैदराबाद अभी तक 5 बार आमने-सामने हुए हैं, जिनमें एक बार दिल्ली और चार बार हैदराबाद जीती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार