इस्तीफ़ा नहीं देंगे फ़ीफ़ा अध्यक्ष

सेप ब्लैटर इमेज कॉपीरइट AFP

भ्रष्टाचार के आरोपों से जूझ रही अंतरराष्ट्रीय संस्था फ़ीफ़ा के अध्यक्ष सेप ब्लैटर ने 'इस्तीफ़ा देने से इनकार' किया है.

यूरोपीय फ़ुटबॉल संस्था यूईएफ़ए के प्रमुख माइकल प्लैटिनी ने इस मुद्दे पर बुलाई गई आपातकालीन बैठक के बाद ब्लैटर से इस्तीफ़े की मांग की.

ब्लैटर ने गुरुवार को ताज़ा संकट पर चर्चा के लिए ज्यूरिख में एक आपातकालीन बैठक बुलाई थी.

बुधवार को अमरीका में फ़ीफ़ा के 14 अधिकारियों पर गुटबाज़ी, धोखाधड़ी और वित्तीय हेराफेरी करने के तहत मामला दर्ज किया.

इनमें से स्विट्ज़रलैंड में फ़ीफ़ा के सात अधिकारियों को भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ़्तार भी किया गया है.

हालांकि ब्लैटर पर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है.

ब्रितानी प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने भी ब्लैटर के इस्तीफ़े की माँग का समर्थन किया है.

टल सकते हैं चुनाव

इमेज कॉपीरइट Reuters

फ़ीफ़ा के नए अध्यक्ष का चुनाव शुक्रवार को होना है. ब्लैटर पर इस चुनाव को टालने का भी दबाव है.

ब्लैटर के फिर से अध्यक्ष पद के लिए खड़े होने की संभावना को इस संकट के बाद झटका लगा है.

फ़ीफ़ा के प्रायोजक कोका कोला, वीसा और कई अन्य कंपनियों ने फ़ीफ़ा में भ्रष्टाचार की बात पर गंभीर चिंता जताई है.

ब्लैटर अब तक चार बार फ़ीफ़ा के अध्यक्ष रह चुके हैं.

जिन 14 वर्तमान और पूर्व अधिकारियों पर मामला दर्ज किया गया है उनमें से 11 पर फ़ीफ़ा ने फ़ुटबॉल से जुड़ी किसी भी गतिविधि में शामिल होने पर रोक लगा दी है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार