साइना की नज़रें अब इंडोनेशियन ओपन पर

साइना नेहवाल इमेज कॉपीरइट Getty

पिछले दिनों ऑस्ट्रेलियन ओपन बैडमिंटन में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद भारत की स्टार खिलाड़ी साइना नेहवाल एक बार फिर से अपनी चुनौती पेश करने के लिए तैयार हैं.

साइना नेहवाल मंगलवार से शुरू होने जा रहे इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन प्रतियोगिता में दूसरी वरीयता के साथ उतर रही हैं. उनका पहला मैच बुधवार को होगा.

ऑस्ट्रेलियन ओपन में भी साइना नेहवाल को दूसरी वरीयता प्राप्त थी लेकिन उनकी चुनौती क्वार्टर फाइनल में ही टूट गई थी.

उन्हें चीन की पांचवीं वरीयता हासिल शिज़ियान वांग ने मात दी थी.

इमेज कॉपीरइट AP

शिज़ियान फाइनल तक पहुंचीं, हांलाकि वह स्पेन की कैरोलिना मरीन से 22-20, 21-18 से हार गई थीं.

साइना नेहवाल ने तो क्वार्टर फाइनल में हार के साथ ही अपना ख़िताब भी गंवा दिया.

फिर होगा उनसे सामना

इंडोनेशिया ओपन में भी साइना को एक बार फिर उन्ही खिलाड़ियों का सामना करना पडेगा.

कैरोलिना मरीन को यहां तीसरी और शिज़ियान वांग को पांचवी वरीयता दी गई है. चीन की ज्यूरूई ली को शीर्ष वरीयता दी गई है.

इमेज कॉपीरइट AFP Getty

भारत की ही पीवी सिंधू भी अपना दावा पेश करेंगी. विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में दो बार की कांस्य पदक विजेता सिंधू ऑस्ट्रेलियन ओपन में दूसरे दौर से आगे नहीं बढ़ सकी थीं.

उन्हें आठवीं वरीयता हासिल चीन की यिहान वांग ने एक कड़े मुक़ाबलें में 18-21, 21-15, 25-13 से हराया था. हो सकता है कि साइना नेहवाल और पीवी सिंधू इंडोनेशिया ओपन के दूसरे दौर में ही आमने-सामने हो जाएं.

पुरूष एकल वर्ग में पिछले साल अपने शानदार प्रदर्शन से पूरी दुनिया को चौंकाने वाले भारत के श्रीकांत को इंडोनेशिया ओपन में भी चौथी वरीयता दी गई है.

बेहतर प्रदर्शन

चीन के चेन लोंग ने ऑस्ट्रेलियन ओपन का ख़िताब जीतकर अपनी फॉर्म का परिचय दे दिया है. उन्हें शीर्ष वरीयता दी गई है.

वहीं चेन लोंग से ऑस्ट्रेलियन ओपन के फ़ाइनल में हारने वाले डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन के दावे को भी कम नहीं माना जा सकता.

इमेज कॉपीरइट EPA

भारत के ही पी कश्यप भले ही इन दिनों फॉर्म और फ़िटनेस से जूझ रहे हैं, लेकिन वे बड़ा उलटफेर कर सकते हैं. पिछले चैंपियन डेनमार्क के यान ओ योर्गेंसन भी अपने ख़िताब के बचाव में जी-जान एक करेंगे.

महिला युगल में भारत की चुनौती एक बार फिर अनुभवी ज्वाला गुट्टा और अश्विनी पोनप्पा के हाथों में रहेगी. पिछले काफ़ी समय से उनका खेल उतार पर है.

वैसे साइना नेहवाल साल 2009, 2010 और साल 2012 में इंडोनेशिया ओपन का ख़िताब जीत चुकी हैं.

पिछली सुहानी यादों के दम पर साइना नेहवाल वहाँ ऑस्ट्रेलियन ओपन से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार