फ़ुटबॉल भ्रष्टाचार: 6 पर इंटरपोल नोटिस

सेप्प ब्लैटर इमेज कॉपीरइट AP

इंटरपोल ने भ्रष्टाचार और रिश्वत के आरोप में अंतरराष्ट्रीय फ़ुटबाल की देखरेख करने वाली संस्था फ़ीफ़ा से जुड़े छह लोगों के ख़िलाफ़ रेड अलर्ट जारी किया है.

यह नोटिस चार कॉर्पोरेट एक्ज़ीक्यूटिव और पूर्व फ़ीफ़ा अधिकारियों के ख़िलाफ़ जारी किया गया है. इन छह में संस्था के पूर्व उपाध्यक्ष जैक वार्नर भी शामिल हैं.

अमरीकी मीडिया का कहना है कि अमरीकी अधिकारी फ़ीफ़ा में भ्रष्टाचार के लिए जिन अधिकारियों की जांच कर रहे हैं उनमें फ़ीफ़ा अध्यक्ष सेप्प ब्लैटर का नाम भी शामिल है. यह ख़बर ब्लैटर के अपने पद से इस्तीफ़ा देने के कुछ घंटे बाद आई है.

'आरोपपत्र में शामिल'

इमेज कॉपीरइट Reuters

बुधवार को इंटरपोल ने जिन छह लोगों के ख़िलाफ़ रेड अलर्ट नोटिस जारी किया उन सभी के नाम पिछले हफ़्ते अमरीकी न्याय विभाग के आरोपपत्र में भी थे.

रेड अलर्ट नोटिस अंतरराष्ट्रीय गिरफ़्तारी वारंट नहीं होता और किसी देश पर इसमें शामिल नामों को हिरासत में लेने की बाध्यता नहीं होती.

अमरीकी अधिकारियों ने पिछले हफ़्ते सात फ़ीफ़ा अधिकारियों को स्विट्ज़रलैंड में गिरफ़्तार किया था जो आरोपपत्र में शामिल 14 लोगों में से थे.

इस गिरफ़्तारी के दो दिन बाद ही सेप्प ब्लैटर फिर से फ़ीफ़ा अध्यक्ष चुने गए थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हालांकि मंगलवार को उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि उन्हें मिले जनादेश 'को विश्व में सभी लोगों का समर्थन हासिल नहीं है'.

उन्होंने कहा था कि नए अध्यक्ष के चुनाव तक वह इस पद पर बने रहेंगे, जिसके लिए कोई तारीख़ तय नहीं की गई है लेकिन यह दिसंबर 2015 से मार्च 2016 तक हो सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार