साख के लिए ख़ेलने उतरेगा ज़िम्बॉब्वे

इमेज कॉपीरइट AP

भारत और ज़िम्बॉब्वे के बीच हरारे में मौजूदा वन डे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की सिरीज़ की तीसरा और आखिरी मुक़ाबला मंगलवार को हरारे में खेला जाएगा.

अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में खेल रही भारतीय टीम ने शुरूआती दोनो मैच जीतकर इस सिरीज़ में पहले ही 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है.

पहले मैच भारत केवल चार रन से जीतने में कामयाब तो रहा लेकिन अंतिम गेंद तक भारत पर हार का खतरा मंडराता रहा.

दूसरे मैच में भारत के सामने ज़िम्बॉब्वे कहीं नहीं ठहर सका. भारत ने ज़िम्बॉब्वे को बेहद आसानी से 62 रन से मात दी. भुवनेश्वर कुमार ने लम्बे समय बाद शानदार गेंदबाज़ी करते हुए 33 रन देकर चार विकेट हासिल किए.

इसके बावजूद भारत के लिए अच्छी ख़बर नहीं है क्योंकि चोट के कारण फॉर्म में चल रहे बल्लेबाज़ अंबाती रायडू बाकि मुक़ाबलों से बाहर हो गए है.

उनकी जगह संजू सैमसन को टीम में जगह मिली है.

रायडू की कमी ख़लेगी

अंबाती रायडू ने पहले मैच में ज़िम्बॉब्वे के ख़िलाफ़ अपना दूसरा शतक जमाते हुए नाबाद 124 रन बनाए थे. दूसरे मैच में भी उन्होंने 41 रन लिए थे.

ऐसे में उनकी कमी टीम को खल सकती है. कप्तान अजिंक्य रहाणे ने भी दूसरे मैच में 63 रन बनाकर अपनी फॉर्म हासिल कर ली है.

सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय ने दूसरे मैच में 72 रन बनाकर पहले मैच में मिली नाकामी को धो डाला.

मध्यम क्रम में रोबिन उथप्पा और मनोज तिवारी कुछ ख़ास नही कर सके हैं. तीसरे मैच में उनके पास आखिरी मौक़ा होगा.

क्लीन स्वीप से बचना चाहेगा ज़िम्बॉब्वे

इमेज कॉपीरइट AFP

दूसरी तरफ ज़िम्बॉब्वे के लिए पहले मैच में 104 रनों की शतकीय पारी खेलने वाले कप्तान एल्टन चिगुम्बुरा के अलावा सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज़ सिकंदर रज़ा ने भी पहले मैच में 37 रन बनाकर अपनी चमक तो दिखाई लेकिन ग़ैरज़िम्मेदाराना शॉट खेलकर आउट भी हुए.

दूसरे मैच में सलामी बल्लेबाज़ चामू चिभाभा के अलावा बाकि सभी बल्लेबाज़ संघर्ष करते नज़र आए. चिभाभा ने रन आउट होने से पहले 72 रन बनाए.

इसके बावजूद ज़िम्बॉब्वे तीसरे मैच में जीत हासिल करने की पूरी कोशिश करेगा ताकि वह एकतरफ़ा रूप से 3-0 से सिरीज़ हारने से बच सके, वहीं भारत क्वीन स्वीप के लिए ज़ोर लगाएगा.

एक साल बाद विदेश में सिरीज़ जीती

इमेज कॉपीरइट Reuters

वैसे भारत ने विदेशी ज़मीन पर लगभग एक साल बाद कोई सिरीज़ जीती है.

इससे पहले भारत ने पिछले साल महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में इंग्लैंड से पांच एकदिवसीय मैचों की सिरीज़ 3-1 से अपने नाम की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार