एशेज़ में राख हुईं ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें

इमेज कॉपीरइट Reuters

इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को एक पारी और 78 रनों के विशाल अंतर से हराकर एशेज़ सिरीज़ पर कब्ज़ा कर लिया है.

नॉटिंघम में खेले गए चौथे एशेज़ टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने तीसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को 253 पर ऑल आउट कर दिया.

स्टूअर्ट ब्रॉड को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया. उन्होंने कुल नौ विकेट लिए.

क्लार्क ने संन्यास की घोषणा की

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में मात्र 60 रन बनाए थे. स्टुअर्ट ब्रॉड की बेहतरीन गेंदबाज़ी के आगे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों की एक नहीं चली. उन्होंने पहली पारी में आठ विकेट लिए.

इसके जवाब में इंग्लैंड ने पहली पारी में नौ विकेट के नुकसान पर 391 रनों पर पारी घोषित कर दी थी जिसमें रूट के शानदार 130 रन भी शामिल थे.

तीसरे ही दिन जीता मैच

इमेज कॉपीरइट Getty

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ दूसरी पारी में भी कुछ ख़ास कमाल नहीं पाए. सलामी बल्लेबाज़ क्रिस रॉजर्स और डेविड वॉर्नर ने अच्छी शुरुआत ज़रूर की थी लेकिन बाद ज़्यादातर बल्लेबाज़ों ने घुटने टेक दिए. बेन स्टोक्स ने छह बल्लेबाज़ों को आउट किया.

इंग्लैंड के दबदबे का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि तीसरे ही दिन उसके गेंदबाज़ों ने सभी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को आउट कर मैच अपने नाम कर लिया.

पहला एशेज़ मैच इंग्लैंड ने जीता था, दूसरा मैच ऑस्ट्रेलिया के नाम रहा जबकि तीसरा और चौथा फिर से इंग्लैंड ने जीता. इंग्लैंड अब सिरीज़ में 3-1 से आगे है.

पिछली बार एशेज़ सिरीज़ में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 5-0 से धोया था.

जीत के बाद इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टर कुक ने कहा, "जब आप 5-0 से हारते हैं तो बड़ी बात होती है. लेकिन फिर जल्द ही एक नई टीम बनी जिसमें बहुत हुनर है. बेन स्टोक्स बेहतरीन थे जिस तरह का स्विंग वे दूसरी पारी में लेकर आए. रूट तो लगातार अच्छा कर रहे हैं, बटलर, अली, वुड, सभी. मैं ख़ुशकिस्मत हूँ कि ब्रॉड जैसे वरिष्ठ खिलाड़ी हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)