अश्विन, एंजेलो मैथ्यूज़ और विराट छाए रहे

इमेज कॉपीरइट Reuters

सिंहलीज़ स्पोर्टस क्लब ग्राउंड में समाप्त हुए तीसरे और आख़िरी टेस्ट मैच को भारत ने 117 रनों से अपने नाम किया. इसके साथ ही भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में आख़िरकार श्रीलंका को उसी की ज़मीन पर 22 साल बाद हराते हुए सिरीज़ 2-1 से जीती.

इस पूरी सिरीज़ में भारत के कप्तान विराट कोहली ने बल्ले के साथ भी अपना दमख़म दिखाते हुए भारत की ओर से सर्वाधिक 233 रन बनाए. उन्होंने एक शतक और एक अर्धशतक भी जमाया.

उनके बाद रोहित शर्मा ने तीन टेस्ट मैच में 2 अर्धशतक की मदद से 202 रन बनाए.

पढ़ें विस्तार से

अजिंक्य रहाणे रन बनाने के मामले में तीसरे नम्बर पर रहे जिन्होंने एक शतक की मदद से 178 रन बनाए.

शिखर धवन ने हांलाकि केवल एक टेस्ट मैच खेला लेकिन वह एक शतक की मदद से 162 रन बनाने में कामयाब रहे.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

चेतेश्वर पुजारा भी एक टेस्ट मैच खेलकर एक शतक की मदद से 145 रन बनाने में कामयाब रहे.

वहीं गेंदाबाज़ी में भारत के ऑफ़ स्पिनर आर अश्विन ने पूरी सिरीज़ में सर्वाधिक 21 विकेट लिए और मैन ऑफ़ द सिरीज़ भी रहे. अश्विन ने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में 46 रन देकर 6 विकट लेकर लिए जो उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने भी पूरी सिरीज़ में 15 और तेज़ गेंदबाज़ इंशात शर्मा ने 13 विकेट लिए.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

वहीं श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज़ तीन टेस्ट मैच में 2 शतक और एक अर्धशतक की मदद से सर्वाधिक 339 रन बनाने में कामयाब रहे. श्रीलंका के ही दिनेश चांदीमाल ने एक शतक और एक अर्धशतक की मदद से 288 रन बनाए.

लाहिरू थिरिमाने एक अर्धशतक की मदद से केवल 142 रन बना सके.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

गेंदबाज़ी में श्रीलंका के तेज़ गेंदबाज़ धमिका प्रसाद और लेग स्पिनर रंगना हैराथ ने 15-15 विकेट अपने नाम किए तो ऑफ़ स्पिनर थरिंदू कौशल ने 13 विकेट लिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार