टीम इंडिया का चयन, कौन मारेगा बाज़ी

धोनी इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption टीम की कप्तानी एक बार फिर धोनी को ही मिल सकती है.

रविवार को बैंगलुरू में भारत के पूर्व बल्लेबाज़ संदीप पाटिल की अध्यक्षता वाली चयन समीति दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ होने वाली ट्वेंटी-ट्वेंटी और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सिरीज़ के लिए भारतीय टीम का चयन करेगी.

दक्षिण अफ़्रीकी टीम भारत में तीन ट्वेंटी-टवेंटी और पांच एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की सिरीज़ खेलेगी.

इसके अलावा दक्षिण अफ़्रीकी टीम भारत में चार टेस्ट मैचों की सिरीज़ भी खेलेगी.

टेस्ट मैचों की सिरीज़ का पहला मैच पांच से नौ नवंबर तक मोहाली में खेला जाएगा, इसलिए पहले ट्वेंटी-ट्वेंटी और एकदिवसीय टीम का चयन रविवार को होगा.

यह तो तय है कि भारतीय टीम में बहुत अधिक बदलाव नही होंगे.

ट्वेंटी-ट्वेंटी और एकदिवसीय सिरीज़ के लिए महेंद्र सिंह धोनी का कप्तान बनना तय है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption इशांत शर्मा ने श्रीलंका दौरे पर शानदार प्रदर्शन किया है.

धोनी की कप्तानी में इससे पहले भारत ने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ एकदिवसीय सिरीज़ खेली थी जिसमें बांग्लादेश तीन मैचों की सिरीज़ 2-1 से जीतने में कामयाब रहा था.

उस सिरीज़ में धोनी के अलावा रोहित शर्मा, विराट कोहली, शिखर धवन, अंबाती रायडू और अजिंक्य रहाणे एक बल्लेबाज़ के रूप में खेले थे जबकि स्टुअर्ट बिन्नी एक आलराउंडर के तौर पर टीम में शामिल थे.

ऑफ़ स्पिनर आर अश्विन और लैग स्पिनर करन शर्मा के अलावा तेज़ गेंदबाज़ के रूप में उमेश यादव, भुवनेश्वर कुमार और धवल कुलकर्णी भी टीम का हिस्सा थे.

पिछले दिनों श्रीलंका के ख़िलाफ़ टेस्ट सिरीज़ में शानदार प्रदर्शन करने वाले ईशांत शर्मा और लेग स्पिनर अमित मिश्रा के चयन पर सबकी नज़र रहेगी.

वैसे ईशांत शर्मा पर एक टेस्ट मैच का प्रतिबंध लगा हुआ है. इससे अलावा रविंद्र जडेजा और मोहित शर्मा के नाम पर भी सबकी नज़रे रहेंगी. शिखर धवन का चयन उनके फ़िटनेस टेस्ट पर निर्भर है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption रविंद्र जडेजा के चयन पर भी सबकी नज़रे रहेंगी.

भारत ने अपनी पिछली एकदिवसीय सिरीज़ अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में ज़िम्बॉब्वे के ख़िलाफ़ खेली थी जिसे भारत एकतरफ़ा रूप से 3-0 से जीतने में कामयाब रहा था.

उल्लेखनीय है कि जिन अजिंक्य रहाणे को कप्तान महेद्र सिंह धोनी ने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ पहले एकदिवसीय मैच के बाद यह कहकर टीम से निकाल दिया था कि वह स्ट्राइक रोटेट नहीं कर पाते उन्हीं रहाणे को चयनकर्ताओ ने ज़िम्बाब्वे कप्तान बनाकर भेजा.

उस टीम में अनुभवी खिलाड़ियों की जगह मुरली विजय, रोबिन उथप्पा, मनोज तिवारी, मनीष पांडेय और केदार जाधव जैसे खिलाड़ी शामिल थे लेकिन रविवार को चुने जाने वाली टीम में इनकी जगह मुश्किल लगती है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption हरभजन सिंह का चयन मुश्किल लगता है.

ज़िम्बाब्वे दौरे पर अनुभवी हरभजन सिंह भी शामिल थे. दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ एकदिवसीय सिरीज़ में उनका चयन भी मुश्किल ही लगता है.

दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ होने वाली सिरीज़ महेंद्र सिंह धोनी के लिए एक कप्तान और बल्लेबाज़ के रूप में बेहद महत्वपूर्ण मानी जा रही है.

वैसे भी धोनी टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा चुके है और बीसीसीआई में एन श्रीनिवासन का रूतबा कम होने से ख़ुद धोनी की ताक़त भी कम हुई है. उन पर अपने चहेते खिलाड़ियों को खिलाने के आरोप लगते रहे है.

इतना ही नही बांग्लादेश में तो टीम में मनमुटाव साफ़ तौर पर देखा गया था. ऐसे में रविवार को घोषित होने वाली टीम में क्रिकेट पंडितों की दिलचस्पी बढ़ गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार