'वापसी' पर जीत का जश्न मना पाएंगे धोनी?

महेंद्र सिंह धोनी इमेज कॉपीरइट AFP

भारत और दक्षिण अफ्रीका शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में तीन ट्वंटी-ट्वंटी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की सिरीज़ के पहले मैच में आमने-सामने होंगे.

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में इससे पहले भारत ने बांग्लादेश के ख़िलाफ तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की सिरीज़ खेली थी जिसे बांग्लादेश ने 2-1 से अपने नाम किया था.

महेंद्र सिंह धोनी ने गुरुवार को धर्मशाला में पत्रकारों से कहा कि उनकी टीम मैदान में कोई कोताही नही बरतेगी.

उन्होंने कहा कि टीम अपनी सीमाओं में रहकर आक्रामक खेल खेलेगी. हालाँकि उन्होंने कहा कि वो नहीं चाहते कि अनावश्यक आक्रामकता दिखाने की कोशिश में उनके किसी खिलाड़ी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई हो.

बल्लेबाज़ी क्रम तय नहीं

इमेज कॉपीरइट AFP

बल्लेबाज़ी क्रम में ऊपर आने के सवाल को लेकर धोनी ने कहा कि उन्हें भी बल्लेबाज़ी करना पसंद है, लेकिन टीम का संयोजन और परिस्थिति देखकर ही सब तय किया जाएगा.

अधिकतर भारतीय खिलाड़ी टॉप ऑर्डर में ही खेलते हैं लेकिन आईपीएल और देश के लिए खेलना अलग है.

भारत के लिए ट्वंटी-20 में रोहित शर्मा ओपनिंग करते हैं जबकि आजिंक्य रहाणे मध्य क्रम में खेलते हैं.

टीम में गेंदबाज़ों के सवाल पर धोनी ने कहा कि यह अच्छा है कि टीम में चार स्पिनर और तीन तेज़ गेंदबाज़ हैं.

इसके अलावा ऑलराउंडर भी हैं जो गेंद को स्विंग करा सकते हैं.

आंकड़ों में भारत भारी

इमेज कॉपीरइट AFP

वैसे भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच अभी तक केवल आठ टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले गए है जिनमें से 6 में भारत विजयी रहा है.

इसे इत्तेफ़ाक ही कहा जाएगा कि दक्षिण अफ्रीकी टीम के कप्तान डू प्लेसी आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स से खेलते है इससे दोनों ही एक दूसरे की ख़ासियत और कमियों को जानते हैं.

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान प्लेसी के अलावा एबी डीविलियर्स, जेपी डूमिनी, इमरान ताहिर और डेविड मिलर आईपीएल के जाने-पहचाने चेहरे हैं और उन्हे भारत में खेलने का अनुभव है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार