इस समय मेसी बेहतरीन फ़ुटबॉलर: पेले

Image caption पेले के साथ प्रेस कॉन्फ़्रेंस में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी मौजूद थे

फ़ुटबॉल के 'किंग' कहे जाने वाले पेले आज के दौरे में अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी को सबसे अच्छा फ़ुटबॉलर मानते हैं जबकि अपने दौर में अच्छे खिलाड़ियों में वो इंग्लैंड के बॉबी मूर का नाम लेते हैं.

ब्राज़ील के महान फ़ुटबॉलर पेले इन दिनों कोलकाता में है और सोमवार को वो पत्रकारों से मुख़ातिब हुए.

उन्होंने फ़ुटबॉल पर खुल कर बातें की, लेकिन इस खेल की विश्व संस्था फीफा पर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

इमेज कॉपीरइट EPA

जब पेले से पूछा गया कि उनके हिसाब से कौन बेहतरीन फ़ुटबॉलर है तो उन्होंने कहा, "कई शानदार खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौक़ा मिला. कई बेहतरीन फ़ुटबॉलरों को खेलते हुए देखा भी है. लेकिन डिफ़ेंडरों में ज़्यादा लोग जिनका नाम नहीं लेते हैं वो हैं बॉबी मूर, वो असाधारण खिलाड़ी थे. आज की पीढ़ी में मेसी सबसे अच्छे खिलाड़ी हैं."

पेले के इस जबाव से कई लोग हैरान थे क्योंकि उन्होंने अर्जेंटीना के डिएगो माराडोना का नाम नहीं लिया.

कैसे सुधरेगी भारतीय फ़ुटबॉल?

ब्राज़ील की फ़ुटबॉल टीम की खस्ता हालत के लिए पेले ने मैनेजमेंट के बढ़ते दख़ल को ज़िम्मेदार बताया.

इस प्रेस कॉन्फ़्रेंस में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी मौजूद थे जो इंडियन सुपर लीग की टीम 'एटलेटिको कोलकाता' टीम के मालिक भी हैं.

गांगुली ने पेले से पूछा कि भारत में फ़ुटबॉल की बेहतरी के लिए अगले पांच साल में क्या करना चाहिए?

इस पर पेले ने कहा कि बुनियादी ढांचे को मज़बूत करना होगा और बच्चों को स्कूली स्तर से ही खेल की ट्रेनिंग देनी होगी.

उन्होंने कहा कि भारतीय फ़ुटबॉलरों को विदेश भेजना भी मददगार साबित होगा जहां वो अच्छे फ़ुटबॉलर्स के साथ खेल सकेंगे.

74 वर्षीय पेले इससे पहले 1977 में कोलकाता आए थे जब उन्होंने मोहन बागान टीम के विरुद्ध मैच खेला था.

ये मैच आज भी कोलकाता के फ़ुटबॉल प्रेमियों को याद है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार