वर्ल्ड टी-20: भारत-पाक मुक़ाबले पर सबकी नज़र

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीमें वन-डे और टी-20 विश्व कपों में पूरे 10 बार भिड़ चुकी हैं?

जी हाँ, और इन सभी मैचों मैं जीत का सेहरा बंधा है 'मैन इन ब्ल्यू' के सिर.

यही एक टीस है जिसे मिटाने के लिए शाहिद आफ़रीदी और उनके खिलाड़ी शनिवार को ईडन गार्डंस में उतरेंगे.

क्योंकि विश्व कप के वन-डे मैचों में भारत का अब तक का स्कोर 6-0 है, जबकि वर्ल्ड टी-20 में ये स्कोर 4-0 का है.

इमेज कॉपीरइट Getty

पिछले साल हुए एकदिवसीय विश्व कप के शुरुआती मैच में भारत ने एडिलेड में पाकिस्तान को करारी हार थमाई थी.

लेकिन अगर पाकिस्तानी कोच वक़ार यूनुस की मानें तो शनिवार शाम 'दबाव भारत पर ज़्यादा रहेगा'.

वक़ार की बात में कुछ सच्चाई भी है क्योंकि पहले मैच में न्यूज़ीलैंड से पटखनी खाने के बाद भारतीय टीम के लिए हर मैच 'करो या मरो' सा बन चुका है.

उधर, पाकिस्तान ने इस विश्व कप का आगाज़ बांग्लादेश पर जीत के साथ किया है.

घरेलू मैदान का दबाव तो भारत पर रहेगा ही लेकिन कुछ ऐसा ही दबाव 2011 के विश्व कप सेमीफ़ाइनल में भी था, जहाँ धोनी और आफ़रीदी ही कप्तान थे.

लेकिन मोहाली का मैच एकतरफ़ा साबित हुआ था और धोनी शायद उसी के बारे में सोच रहे होंगे.

धोनी यह भी मना रहे होंगे कि उनके बल्लेबाज़ नागपुर में किए अपने लचर प्रदर्शन को भुलाकर नए जोश के साथ उतरें.

अगर भारत की मज़बूती उसकी बैटिंग है, तो पाकिस्तान के पास मोहम्मद आमिर जैसे गेंदबाज़ों के चलते पैना अटैक है.

इमेज कॉपीरइट Getty

वैसे भारत-पाक के बीच ईडन गार्डंस में यह पहला टी-20 मैच होगा.

हालांकि पहले हुए चार वन-डे मैचों में हर बार पाकिस्तान की जीत हुई है.

बहरहाल, पिच को थोड़ा क़रीब से देखने में तो यही लगा कि यह नागपुर की तरह बल्लेबाज़ों के गले की हड्डी नहीं बनेगी और उन्हें इससे मदद ही मिलेगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार