ऐसा था अंतिम ओवर का रोमांच !

हार्दिक पंड्या इमेज कॉपीरइट AFP

बेंगलुरु में हुए बेहद रोमांचक मुक़ाबले में भारत ने बांग्लादेश को एक रन से हरा दिया.

चिन्नास्वामी स्टेडियम में ये पहली बार हुआ जब किसी टी-20 मैच में रनों का पीछा करने वाली टीम हार गई.

बांग्लादेश के सामने जीत के लिए 147 का लक्ष्य था.

लेकिन बेंगलुरु में हुए मैच के सबसे रोमांचक पल उस अंतिम ओवर के थे जिन्हें शायद ही कोई दर्शक भूल पाए.

बांग्लादेश को अंतिम ओवर में 11 रन बनाने थे और उसके पास चार विकेट बाक़ी थे.

पढ़ें- मैच की पूरी रिपोर्ट

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने युवा गेंदबाज़ हार्दिक पंड्या में भरोसा जताकर गेंद उन्हें थमा दी.

अंतिम ओवर की पहली ही गेंद पर महमूदुल्लाह ने एक रन लेकर स्ट्राइक मुशफिकुर को दी.

मुशफिकुर ने दूसरी और तीसरी गेंद पर लगातार दो चौके जड़ दिए और मैच बांग्लादेश की झोली में दिखने लगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश के समर्थक जश्न में झूमने लगे. अब बांग्लादेश को जीत के लिए तीन गेंदों में सिर्फ़ दो रन बनाने थे.

लेकिन चौथी और पांचवी गेंद पर हार्दिक पंडया ने मुशफिकुर और फिर महमूदुल्लाह को कैच आउट करा दिया.

दोनों ही बल्लेबाज़ शॉर्ट पड़ी गेंद को खेलने के लालच में गेंद को हवा में उछाल बैठे और फ़ील्डरों ने कोई ग़लती नहीं की.

अब आख़िरी गेंद पर जीतने के लिए बांग्लादेश को दो रन बनाने थे.

लेकिन अंतिम गेंद पर शुवागता बीट हो गए और एक रन लेने की कोशिश में मुस्ताफ़िज़ुर रहमान को धोनी ने रन आउट कर दिया.

बांग्लादेश निर्धारित बीस ओवरों में 9 विकेट खोकर 145 रन बना पाया.

जो टीम एक समय मैच जीतती हुई दिख रही थी वो हार गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार