टी20 फ़ाइनल- कौन बनेगा चैंपियन?

टीम वेस्ट इंडीज़ इमेज कॉपीरइट AFP

टी-20 विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट में अब फ़ाइनल मुक़ाबले की घड़ी आ चुकी है. रविवार को कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डंस में वेस्ट इंडीज और इंग्लैंड की टीमें आमने-सामने होंगी.

वेस्ट इंडीज़ ने ख़िताब के दावेदार माने जा रहे मेज़बान भारत को सेमीफ़ाइनल में सात विकेट से मात दी, वहीं दूसरे सेमीफ़ाइनल में इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड को सात विकेट से हराया.

इमेज कॉपीरइट AFP

दोनों टीमों में मैच जिताऊ खिलाड़ी है. पहले वेस्ट इंडीज़ का दम-ख़म जान लें.

1. वेस्ट इंडीज़ के लेंडल सिमंस सेमीफ़ाइनल में भारत के ख़िलाफ़ धूमकेतू की तरह उभरे और केवल 51 गेंदों पर सात चौक्के और पांच छक्के जमाते हुए नाबाद 82 रन बनाए.

यह उनका अंतराष्ट्रीय टी-20 में सर्वाधिक स्कोर भी है. वह 35 मैचों का अनुभव भी रखते है.

इससे पहले वह अपना आख़िरी अंतरराष्ट्रीय टी-20 मुक़ाबला पिछले साल जनवरी में दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ डरबन में खेले थे, जहां उन्होनें 49 रन बनाए थे.

उन्हें आंद्रे फ्लैचर के चोटिल होने के कारण विशेष रूप से बुलाया गया.

इमेज कॉपीरइट AFP

2. सलामी बल्लेबाज़ जॉनसन चार्ल्स ने भी भारत के ख़िलाफ़ केवल 36 गेंदों पर सात चौक्के और दो छक्के जमाते हुए 52 रन बनाए.

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ 32 और अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ 22 रन बनाए.

3. वेस्ट इंडीज़ के लैग-ब्रेक गेंदबाज़ सैमुअल बद्री ने भारत के ख़िलाफ़ केवल 26 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

श्रीलंका के ख़िलाफ़ उन्होंने 12 रन देकर तीन और अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ 14 रन देकर तीन विकेट झटके.

4. ख़ब्बू स्पिनर सुलेमान बेन भी इस विश्व कप में बेहद क़िफायती साबित हुए है.

उन्होंने अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ 18 रन देकर एक विकेट लिया.

दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ उन्हें भले ही विकेट ना मिला हो लेकिन चार ओवर में केवल 20 रन देकर उन्होंने रन गति पर अंकुश लगाया.

सुपर टेन में भी इंग्लैंड के ख़िलाफ़ उन्होंने केवल 23 रन देकर एक विकेट लिया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

5. वैसे कुछ भी हो फ़ाइनल में गेल फैक्टर तो रहेगा ही.

वह क्रिस गेल ही थे जिन्होंने ग्रुप मैच में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 48 गेंदों पर 11 छक्के और 5 चौक्के जमाते हुए नाबाद पूरे 100 रन बनाए थे.

हालांकि वह दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ चार और भारत के ख़िलाफ़ पांच रन ही बना सके.

दूसरी तरफ इंग्लैंड ने इस विश्व कप में दमदार खेल दिखाया है. इंग्लैंड के पास भी कुछ कम खिलाड़ी नहीं.

1. इंग्लैंड के जॉ रूट टीम के लिए रीढ़ की हड्डी हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ 44 गेंदों पर 83 रन बनाकर ऐसे मैच में जीत दिलाई जब सामने 230 रनों का लक्ष्य था.

रूट ने वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ 48, श्रीलंका के ख़िलाफ़ 25 और न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ नाबाद 27 रन बनाए.

वह अभी तक इस विश्व कप में 195 रन बना चुके है और विराट कोहली के बाद दूसरे नम्बर पर हैं. विराट कोहली ने 273 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट Getty

2. सलामी बल्लेबाज़ जेसन रॉय ने न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ धुंआधार 78, श्रीलंका के ख़िलाफ़ 42 और दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ 43 रन बनाकर ख़ूब सुर्ख़ियां बटोरी हैं.

वह इस विश्व कप में 183 रन बनाकर कामयाब बल्लेबाज़ों की सूची में तीसरे नंबर पर हैं.

3. विकेटकीपर बल्लेबाज़ जोस बटलर ने भी श्रीलंका के ख़िलाफ़ नाबाद 66, वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ 30 रन बनाए.

फिर सेमीफ़ाइनल में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ केवल 17 गेंदों पर 32 रन बनाकर अपनी उपयोगिता साबित की.

4. गेंदबाज़ी में खब्बू तेज़ गेंदबाज़ डेविड विली और उनके जोड़ीदार क्रिस जोर्डन के अलावा बेन स्टोक्स की तिकड़ी स्विंग गेंदों से विरोधी टीम को रोकने में कामयाब रही है.

इमेज कॉपीरइट AFP

5. ऑफ स्पिनर मोईन अली कसी हुई गेंदबाज़ी करने के अलावा ज़रूरत पड़ने पर चौक्के-छक्के भी जमा लेते है.

वैसे इंग्लैंड साल 2010 में और वेस्ट इंडीज़ साल 2012 में ख़िताब जीत चुकी हैं.

ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब कोई टीम दूसरी बार चैंपियन बनेगी.

ईडन गार्डंस में वानखेड़े जैसे रन नही बरसेंगे, इसके बावजूद दिलचस्प फ़ाइनल की उम्मीद है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार