'वेस्ट इंडीज़ बोर्ड से ज़्यादा बीसीसीआई साथ देता है'

ड्वेन ब्रावो इमेज कॉपीरइट AFP

वेस्टइंडीज़ के हरफ़नमौला ख़िलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने टीम के कप्तान डेरेन सैमी के सुर में सुर मिलाते हुए वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड (डब्ल्यूआईसीबी) की आलोचना की है.

स्टार स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्यू में ब्रावो ने कहा कि उनके अपने क्रिकेट बोर्ड के मुक़ाबले बीसीसीआई उनका ज़्यादा समर्थन करती है.

आईसीसी टी-20 विश्व कप जीतने वाली टीम के खिलाड़ी ब्रावो ने कहा, "देश का क्रिकेट सही हाथों में नहीं है. हमें डब्ल्यूआईसीबी के किसी भी अधिकारी या निदेशक की ओर से कोई कॉल नहीं आया. यह अच्छी बात नहीं है."

इमेज कॉपीरइट Nikhil Murugan

उन्होंने कहा, "हम यह जानते हैं कि वे यह नहीं चाहते थे और न यक़ीन करना चाहते कि हम यह टूर्नामेंट जीत सकते हैं. बुनियादी तौर पर वे हमारे ख़िलाफ़ हैं. हमारे लिए बीसीसीआई ज़्यादा करती है."

उन्होंने इस पर भी सवाल किया कि उन्हें, क्रिस गेल और आंद्रे रसेल को वेस्टइंडीज की वनडे अंतरराष्ट्रीय टीम से बाहर रखा जा रहा है.

उन्होंने बताया, "अगर आप कैलेंडर पर नज़र डाले तो इस साल हमारे पास खेलने के लिए कोई टी-20 मैच नहीं है. हमें वनडे में नहीं चुना गया. दक्षिण अफ़्रीका के साथ एक सीरीज़ होने वाली है लेकिन हम इंग्लैंड (नैटवेस्ट ब्लास्ट) में खेलेंगे जबकि हमें वेस्टइंडीज़ के लिए खेलना चाहिए था."

इमेज कॉपीरइट AP

उन्होंने कहा कि उन्हें भारत में बहुत प्यार मिलता है.

डेरेन सैमी ने कोलकाता के ईडन गार्डन में पुरस्कार समारोह के दौरान वेस्ट इंडीज़ के क्रिकेट बोर्ड के रवैये पर निराशा जताई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार