सुरों के सरताज सचिन देव बर्मन
તમારું ડિવાઇસ મીડિયા પ્લેબૅક સપોર્ટ નથી કરતું

हिन्दी फ़िल्म संगीत में सचिन देव बर्मन का योगदान. ख़ास सिरीज़ की तीसरी कड़ी.

उनकी धुनें एक तरफ बंगाल के भक्ति संकीर्तन और भटियाली लोकधुनों से उठकर आती थीं. दूसरी ओर उनका संगीतकार बाउल संगीत और रवीन्द्र संगीत के धरातल पर अपनी कारीगरी बुनता था. वे अपने बचपन में राजपरिवार के दो मुख्य परिचायकों माधव और अनवर से अकसर धर्मग्रंथों का सस्वर पाठ सुना करते थे.