फ़ेसबुक का कैशबुक भरना शुरू

Image caption हर सप्ताह 50 लाख लोग फ़ेसबुक के सदस्य बन रहे हैं

सोशल नेटवर्किंग की दुनिया की सबसे बड़ी वेबसाइट 'फ़ेसबुक' का कहना है कि उम्मीद से पहले ही उसकी कमाई शुरू हो गई है.

फ़ेसबुक ने बताया है कि उसकी वेबसाइट के दुनिया भर में फैले सक्रिय सदस्यों की संख्या 30 करोड़ है. ज़ाहिर है कि सदस्यों की बढ़ती संख्या के बीच फ़ेसबुक के प्रति विज्ञापनदाताओं का भी आकर्षण बढ़ा है.

फ़ेसबुक के संस्थापक मार्क ज़ुकरबर्ग का कहना है कि उन्हें 2010 से पहले मुनाफ़े की उम्मीद नहीं थी लेकिन फ़ेसबुक ने ये कमाल भी कर दिखाया है.

ज़ुकरबर्ग कहते हैं, "ये अच्छी बात है कि फ़ेसबुक लंबे समय तक एक स्वतंत्र वेबसाइट के तौर पर सफलतापूर्वक अपनी सेवाएँ आम जनता को दे सकता है. हम बहुत ही योजनाबद्ध तरीक़े से आगे बढ़ रहे हैं."

अपने ब्लॉग में ज़ुकरबर्ग ने लिखा है, "हमें काम में बहुत मज़ा आ रहा है और चुनौतियाँ भी बहुत सारी हैं, लोगों तक निर्बाध रुप से सूचना का प्रवाह बनाए रखने के लिए हमें अपनी योजनाओं में लगातार बदलाव करते रहना पड़ता है."

फ़ेसबुक की लोकप्रियता किस तेज़ी से बढ़ रही है इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि हर सप्ताह 50 लाख नए लोग इस वेबसाइट की सदस्यता ले रहे हैं.

फ़ेसबुक के उपाध्यक्ष माइक स्क्रोफ़र ने बीबीसी से बातचीत में कहा, "कमाई का मतलब यही है कि हम अपनी दूरगामी योजनाओं को पूरा करने में निवेश कर सकेंगे, तीस करोड़ ग्राहक तो पहला चरण है, हम तो चाहते हैं कि पूरी दुनिया एक-दूसरे से बातचीत करने और सामाजिक संपर्क कायम रखने के लिए फ़ेसबुक का इस्तेमाल करे."

माना जा रहा है कि फ़ेसबुक अपने सदस्यों की संख्या को एक अरब तक पहुँचाने के बाद ज़ोरदार कमाई की योजनाएँ बनाएगा और उसे होने वाली कमाई भी उसी अनुपात में होगी.

स्क्रोफ़र कहते हैं, "हमारी वेबसाइट है ही जानकारी बाँटने के लिए, इसीलिए विज्ञापन करने वाले हमारी ताक़त को अच्छी तरह समझते हैं."

कहा जा रहा है कि अपने तेज़ी से उभरते प्रतिद्वंद्वी ट्विटर को झटका देना भी फे़सबुक की आने वाले समय की रणनीति का हिस्सा है.

संबंधित समाचार