एयर इंडिया पायलटों ने हड़ताल की धमकी दी

एयर इंडिया
Image caption पायलट भत्तों में कटौती का विरोध कर रहे हैं.

जेट एयरवेज़ के बाद अब सरकारी कंपनी एयर इंडिया के कुछ पायलटों ने वेतन भत्ता घटाने के विरोध में हड़ताल की धमकी दी है.

ये पायलट काम के आधार पर मिलने वाले भत्ते में पचास फ़ीसदी कटौती किए जाने का विरोध कर रहे हैं.

पायलटों के संगठन के प्रतिनिधि कैप्टन भल्ला ने मुंबई में कहा, "पायलटों ने हड़ताल पर जाने का निर्णय किया है, क्योंकि वेतन में कटौती के चलते कोई भी काम करने की मन:स्थिति में नहीं है."

हालाँकि एयर इंडिया प्रबंधन ने हड़ताल की सूचना मिलने से इनकार किया है.

कंपनी के प्रवक्ता जीतेंद्र भार्गव ने बीबीसी संवाददाता सुशीला सिंह से कहा, "हमें पायलटों के हड़ताल पर जाने की कोई सूचना नहीं दी गई है. कार्यकारी पायलटों को हड़ताल पर जाने का कोई अधिकार भी नहीं है."

हालाँकि उन्होंने स्वीकार किया कि पायलटों के भत्ते में कटौती की गई है. उनका कहना था कि एयर इंडिया अभी आर्थिक संकट के दौर से गुजर रही है, इसलिए कुछ कड़े क़दम उठाए गए हैं.

एयर इंडिया में करीब 300 कार्यकारी पायलट हैं और वे कंपनी प्रबंधन का हिस्सा हैं, इसलिए न तो यूनियन बना सकते हैं और न ही हड़ताल पर जा सकते हैं.

भत्तों में कटौती पर कैप्टन भल्ला ने कहा, "यह एक तगड़ा झटका है. सीएमडी अरविंद जाधव ने सभी कार्यकारी पायलटों का वेतन 70 फीसद घटा दिया है जिसमें 50 फीसद कटौती दिखाई जा रही है और 20 फीसद कटौती छिपी हुई है."

उन्होंने आरोप लगाया, "वह साढ़े 13 हज़ार डॉलर की दर से विदेशी पायलटों को रखने की कोशिश कर रहे हैं और चाहते हैं कि हम मामूली तनख्वाह में काम करें."

भल्ला का आरोप है कि चेयरमैन ने वेतन में कटौती के मुद्दे पर कार्यकारी पायलटों से चर्चा नहीं की. उन्होंने कहा कि सीएमडी के पास कंपनी को संकट से उबारने की कोई नीति नहीं है और भत्तों में कटौती का आदेश पायलटों से बातचीत किए बिना ही जारी किया.

संबंधित समाचार