मुनाफ़े में ज़बरदस्त गिरावट

  • 20 जुलाई 2010
गोल्डमैन सैक्स

अमरीकी बैंक गोल्डमैन सैक्स ने कहा है कि दूसरी तिमाह में उसका मुनाफ़ा 80 फ़ीसदी से भी ज़्यादा गिर गया है. हालांकि इस सब के बावजूद बैंक को 61 करोड़ 30 लाख डॉलर का फ़ायदा हुआ है.

मुनाफ़े में गिरावट का एक मुख्य कारण है ब्रिटेन में बैंक अधिकारियों के बोनस पर लगा कर. इस कर की वजह से गोल्डमैन सैक्स को साठ करोड़ डॉलर का नुकसान हुआ है.

इसके अलावा अमरीकी वित्तीय नियामक ने बैंक के ख़िलाफ़ धोखाधड़ी के जो आरोप लगाए थे,उस सिलसिले में बैंक को 55 करोड़ डॉलर देने पड़े.

निवेशकों को ग़लत जानकारी देने के आरोप में गोल्डमैन सैक्स को 55 करोड़ डॉलर का जुर्माना देना था.दुनिया भर में किसी भी बैंक पर अब तक लगाया गया यह सबसे बड़ा जुर्माना है.

गोल्डमैन सैक्स का कहना है कि उसकी व्यापारिक गतिविधियों से भी कम मुनाफ़ा हुआ है.

गोल्डमैन सैक्स के प्रमुख लॉयड ब्लैंकफ़ेन ने कहा है कि दूसरी तिमाही में बाज़ार की हालत बहुत अच्छी नहीं थी और इसलिए उपभोक्ताओं की गतिविधियाँ भी कम रहीं.

पिछले साल के मुकाबले बैंक की आमदनी 36 फ़ीसदी कम है.बाज़ार में ये अटकलें पहले से ही थीं कि दूसरी तिमाही में नतीजे अच्छे नहीं होंगे.

जेपी मॉर्गन, बैंक ऑफ़ अमेरीका और सिटीग्रुप की ट्रेडिंग आमदनी में भी गिरावट बताई गई है.

संबंधित समाचार