प्याज़ व्यापारियों ने हड़ताल वापस ली

Image caption सब्ज़ियों की क़ीमतें आसमान छू रही हैं.

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के आश्वासन के बाद दिल्ली के प्याज़ व्यापारियों ने अपनी हड़ताल वापस ले ली है.

दिल्ली की आज़ादपुर मंडी में बुधवार की सुबह प्याज़ की बोली नहीं लगी थी और प्याज़ की कीमतों में और उछाल आने की आशंका जताई जा रही थी.

प्याज़ के व्यापारियों पर पिछले दिनों में आयकर विभाग ने छापे मारे हैं और व्यापारी इसका विरोध कर रहे थे.

समाचार एजेंसियों के अनुसार शीला दीक्षित ने व्यापारियों को भरोसा दिलाया है कि उन्हें “परेशान” नहीं किया जाएगा.

बैठक के बाद आज़ादपुर सब्ज़ी मंडी संघ के सचिव राजिंदर चौधरी का कहना था, “ अगले दो से तीन दिनों के अंदर प्याज़ की कीमतें नीचे आ जाएंगी क्योंकि थोक बाज़ार में आपूर्ति बढ़ गई है.”

उनका कहना था कि मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया है कि उनकी शिकायतों पर ग़ौर किया जाएगा और ख़ासकर जिस तरह का बर्ताव आयकर विभाग के अधिकारियों ने छापों के दौरान किया था.

मुख्यमंत्री ने इस बारे में केंद्र को पत्र लिखने की बात भी कही है.

पिछले एक महीने से देश में प्याज़ की कीमतें आसमान छू रही हैं और सरकार के लिए ये एक बड़ी समस्या बनती जा रही है.

पिछले दो दिनों में खाद्द सामग्रियों की बढ़ती कीमतों पर उच्चस्तरीय बैठकें हुई हैं लेकिन सरकार की तरफ़ से कोई ठोस एलान नहीं हुआ है.

संबंधित समाचार