अमरीका: 1.5 खरब डॉलर के घाटे की आशंका

बराक ओबामा इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption बराक ओबामा के लिए अर्थव्यवस्था की चुनौतियाँ अभी ख़त्म नहीं हुई हैं

अमरीकी बजट ऑफिस की एक रिपोर्ट के मुताबिक सरकार को इस साल रिकार्ड 1.5 खरब डॉलर का वित्तीय घाटा होने की आशंका है.

'कांग्रेशनल बजट ऑफिस' (सीबीओ) की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह घाटा उम्मीद से लगभग 40 फ़ीसदी ज़्यादा होगा और इसकी वजह है वित्तीय संकट और आर्थिक मंदी.

सीबीओ की इस रिपोर्ट के मुताबिक सरकार को इस घाटे से बचने के लिए सरकारी और सार्वजनिक खर्च में कटौती करनी होगी.

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मंगलवार को कहा था कि यह ज़रूरी है कि आर्थिक मंदी और घाटे से जल्द से जल्द उबरा जाए.

आर्थिक मंदी के दौर से अमरीकी अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान पहुंचा है.

आर्थिक मंदी

बीबीसी संवाददाता एंड्रयू वॉल्कर के अनुसार रिपोर्ट कहती है कि यह संभवत: यह लगातार तीसरा साल होगा जब सरकार पर एक खरब डॉलर से अधिक का कर्ज़ होगा.

सीबीओ की रिपोर्ट के मुताबिक सरकार अगर इस घाटे से बचने के लिए टैक्स और खर्च संबंधी नीतियों में बदलाव भी करती है तब भी यह घाटा अगले 10 साल में राष्ट्रीय आय के तीन फ़ीसदी हिस्से के बराबर बना रहेगा.

इसके अलावा अमरीकी जनसंख्या में वृद्धों की बढ़ती संख्या और स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च भी सरकार पर बोझ को बढ़ाएंगे.

रिपोर्ट के मुताबिक सरकार पर बढ़ते वित्तीय बोझ को कम करने के लिए ज़रूरी है कि इस दिशा में बचाव की कोशिशें तेज़ कर दी जाएं.

संबंधित समाचार