आम बजट: लाइव

बीबीसी हिंदी की विशेष लाइव कमेंटरी. बीबीसी हिंदी की विशेष लाइव कमेंटरी.
यह अपने आप अपडेट होता रहेगा.

ताज़ा पेज देखें

भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने बजट की आलोचना की और इसे दिशाहीन बताया.

प्रधानमंत्री- विकास दर को ऊंचा बनाए रखने में बजट सफल रहेगा, वित्त मंत्री  बधाई के पात्र हैं.

प्रधानमंत्री- हम जीएसटी की ओर बढ़ रहे हैं इसलिए उत्पाद और आबकारी शुल्क को स्थिर रखा गया है.

मनमोहन- शेयर बाज़ार में निवेश के लिए कई क़दम उठाए गए हैं,  विदेश निवेश को बढ़ावा दिया गया है, सरचार्ज घटाकर 5 फ़ीसदी किया गया है.

मनमोहन- आप सभी लोगों को खुश नहीं कर सकते जितना संभव था,  वित्त मंत्री ने किया है.

प्रधानमंत्री- करों का सरलीकरण की ज़रूरत थी जो वित्त मंत्री ने किया है.

मनमोहन- महंगाई पर काबू पाने की ज़रूरत थी, वित्त मंत्री ने घाटे को कम करने के लिए उचित क़दम उठाए हैं.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह- ये बजट सभी आर्थिक चुनौतियों का सामना करने में सक्षम है. 

बजट के बाद  शेयर बाज़ार  में 277 अंकों का उछाला,  18114 अंक पहुँचा.  

अपोलो हॉस्पिटल की संगीता रेड्डी- स्वास्थ्य क्षेत्र के  प्रावधानों से निराशा हुई है.

फोर्टिस के शिविंदर सिंह- स्वास्थ्य संबंधी प्रावधानों से नगद भुगतान करने वालों पर भार बढ़ेगा.

भट्टाचार्य- आर्थिक सर्वेक्षण के बाद कृषि में विशेष बल दिए जाने की उम्मीद बंधी थी.

बीबी भट्टाचार्य- सभी क्षेत्रों को थोड़ा, थोड़ा दिया लेकिन बजट की कोई विशेष दिशा नहीं है.

केके मोदी- वित्त मंत्री ने अवसर खोया, खाद्य उत्पादन बढ़ाने के लिए कोई लक्ष्य नहीं.

बजट के बाद शेयर बाज़ार में 1.42 फ़ीसदी की बढ़त, सेंसेक्स 17952 पहुँचा.

एचएसबीसी की नैना किदवई- ये जानकर खुशी हुई कि पर्यावरण सरकार के एजेंडे में है.

फिक्की के पूर्व अध्यक्ष हबील खोराकीवाला- कृषि को इससे बढ़ावा मिलेगा,  स्वास्थ्य सेवाओं के प्रावधानों ने निराश किया.

राजन मित्तल- हम  कर ढांचे को और उपयुक्त बनाए जाने की उम्मीद कर रहे थे.

फिक्की के अध्यक्ष राजन मित्तल ने  कहा कि बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री के ध्यान में राज्यों के चुनाव रहे.

शेयर बाज़ार में गृह निर्माण की कंपनियों के शेयरों में तेज़ी, लौह अयस्क के निर्यात पर कर बढ़ाने से  इससे जुड़ी कंपनियों पर असर.

प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष कर प्रस्तावों से 200 करोड़ रुपए का हानि होने का अनुमान.

एक सौ तीस उत्पादों पर एक फ़ीसदी की दर से उत्पाद शुल्क लगाने का प्रस्ताव.

घरेलू हवाई यात्रा पर 50 रुपए और अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा पर 250 रुपए सेवा कर लगाने का प्रस्ताव.

वरिष्ठ नागरिकों की कर छूट सीमा 2.4 लाख से 2.5 लाख रुपए करने का प्रस्ताव.

वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने केंद्रीय उत्पाद की मानकदर 10 फ़ीसदी रखने का प्रस्ताव रखा.

प्रणब मुखर्जी अपने भाषण के कुछ प्रस्ताव पढ़ना भूल गए, उन्होंने अध्यक्ष से इसको पढ़ने की अनुमति माँगी.

बजट घाटा सकल घरेलू उत्पाद का 4.6 फ़ीसदी रहेगा.

बीस हज़ार के बांडों पर कर छूट एक साल और बढ़ाने का प्रस्ताव.

अस्सी वर्ष से अधिक के लोगों को पाँच लाख रुपए तक की आय पर छूट मिलेगी.

वरिष्ठ नागरिकों को छूट 65 वर्ष की बजाय 60 वर्ष की उम्र से मिलेगी.

कर दाताओं को छूट 20 हज़ार बढ़ाकर एक लाख 80 हज़ार रुपए करने का प्रस्ताव.

प्रणब- सरकार करों का सरलीकृत करना चाहती है.

प्रणब मुखर्जी ने कहा- वित्त वर्ष 2011-12 में कुल व्यय 12, 57, 729 करोड़ रुपए रहने का अनुमान.

2011-12 में कर भिन्न राजस्व प्राप्तियाँ 1,25, 435 करोड़ रुपए रहने का अनुमान.

कर से प्राप्तियाँ 24 फ़ीसदी से अधिक बढ़ी और 9, 32, 440 करोड़ रुपए.  

छोटे करदाताओं के लिए सरल फार्म की शुरुआत का व्यवस्था.

रक्षा सेवाओं के लिए 1, 64, 415 करोड़ रुपए का प्रावधान.

यूडीआई पहचान नंबर इस वित्त वर्ष में 10 लाख सृजित किए जाएंगे.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पश्चिम बंगाल और केरल केंद्र  खोलने के लिए 50 करोड़ रुपए का अनुदान.

लद्दाख के लिए 100 करोड़ और जम्मू के लिए 150 करोड़ रुपए विशेष परियोजनाओं के लिए निर्धारित किए.

गंगा के अलावा अन्य नदियों की सफ़ाई के लिए भी 200 करोड़ रुपए का प्रावधान.

स्वच्छ ऊर्जा फंड के लिए 200 करोड़ रुपए की घोषणा.

खाद्य सुरक्षा विधेयक जल्द लाया जाएगा.

स्वास्थ्य पर आवंटन 20 फ़ीसदी बढ़ाकर 26 हज़ार 760 करोड़ रुपए किया.

सर्व शिक्षा अभियान के लिए 40 फ़ीसदी आवंटन बढ़ा,  21 हज़ार करोड़ रुपए किया.

शिक्षा के लिए आवंटन 24 फ़ीसदी बढ़ा, और ये 52 हज़ार 57 करोड़ रुपए हुआ.

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की सहायता राशि 1500 से तीन हज़ार और 750 से 1500 रुपए करने की घोषणा.

प्रणब मुखर्जी के बजट से शेयर बाज़ार उत्साहित, 1.4 फ़ीसदी बढ़ा.

सामाजिक क्षेत्रों के लिए एक लाख, 60 हज़ार 887 करोड़ रुपए आवंटित.

कर व्यवस्था में सुधार और उसे सरल बनाने की ज़रूरत.

काले धन की समस्या के लिए पाँच सूत्री सरकारी योजना.

जोधपुर में हैंडीक्राफ्ट मेगा क्लस्टर स्थापित किया जाएगा. सात मेगा लेदर कलस्टर स्थापित होंगे.

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने की ज़रूरत.

दिल्ली मेट्रो फेस-3 और मुंबई की तीसरी लाइन शुरु करने का प्रस्ताव.

वर्ष 2012 में 15 मेगा फूड पार्क स्थापित किए जाएंगे.

सार्वजनिक उपक्रमों के लिए 30 हज़ार करोड़ के कर मुक्त बांड जारी करने की अनुमति.

कृषि उत्पादों के लिए कोल्ड स्टोरेज योजनाओं पर रहेगा विशेष जोर.

समय पर कर्ज वापस करने वाले किसानों को चार फ़ीसदी की दर से ब्याज वसूला जाएगा.

जीएसटी के लिए संविधान में संशोधन में  किया जाएगा.

कर्जों में धोखाधड़ी रोकने के लिए केंद्रीय रजिस्ट्री 31 मार्च, 2012 से काम करने लगेगी.

25 लाख तक के होम लोन के लिए मिलेगी एक प्रतिशत की ब्याज सहायता.

 महिलाओं की स्वयं सहायता  विकास निधि के लिए 500 करोड़ से एक नए फंड के निर्माण की घोषणा.

 आरबीआई निजी क्षेत्रों के  बैंकिंग क्षेत्र में प्रवेश के लिए दिशानिर्देश जारी करेगा.

म्युचअल फंडों में सेबी में पंजीकृत कंपनियों के माध्यम से विदेशी निवेश की अनुमति होगी.

सरकार विनिवेश जारी रखेगी, सार्वजनिक क्षेत्र के निगमों में 51 फ़ीसदी हिस्सेदारी रखने के लिए सरकार प्रतिबद्ध.

इसके तहत केरोसिन और अन्य उत्पादों पर सब्सिडी के बजाय  सहायता राशि सीधे खाते जमा की  जाएगी.

ग़रीबी रेखा के नीचे वाले लोगों के खाते में सीधे सब्सिडी पहुँचाने का विचार है. ये व्यवस्था मार्च, 2012 से प्रभावी होगी. 

सब्सिडी आम आदमी तक नहीं पहुँच रही है, ज्यादा प्रभावी बनाने की ज़रूरत है.

सार्वजनिक व्यय के देखरेख के लिए सी रंगराजन की अध्यक्षता में एक समिति.

नया डायरेक्ट टैक्स कोड पिछले साल पेश किया था,  इस दिशा में आगे कदम बढ़ाया जाएगा.

कर्जो की देखरेख के लिए एक एजेंसी के गठन की घोषणा करता हूँ

पिछले साल मैंने अर्थव्यवस्था में इंद्र  की मदद ली थी,  इस बार लक्ष्मी की कृपा चाहता हूँ.

भारत की अर्थव्यवस्था नौ फ़ीसदी दर से बढ़ने की उम्मीद है.

निर्यात इस वित्तीय वर्ष में 29.4 फ़ीसदी की दर से बढ़ा है.

जीडीपी 8.6 फ़ीसदी, कृषि 5.4 फ़ीसदी, उद्योग 8.1 फ़ीसदी और सेवा क्षेत्र 9.6 फ़ीसदी की दर से बढ़ा है,

आर्थिक सुधार वो ही महत्वपूर्ण हैं जो आम आदमी को प्रभावित करें.

भ्रष्टाचार एक बड़ी समस्या है, सबको मिल कर इसका मुक़ाबला करना है.

युवाओं की आकांक्षाओं का भी हम ध्यान रखना है.

ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर हमें ध्यान देना है, साथ ही पर्यावरण का भी ख्याल रखना है.

कृषि और महंगाई पर हमें विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है ताकि ऊंची विकास दर बनी रहे.

हालांकि खाद्य महंगाई फरवरी, 2010 के 22 फ़ीसदी से घटकर 9.3 फ़ीसदी के स्तर पर आई है. 

प्रणब- खाद्य महंगाई चिंता का विषय बनी हुई है.

प्रणब- हमें अनेक आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ा.

प्रणब मुखर्जी ने बजट पेश शुरु कर दिया है

लोक सभा की कार्यवाही शुरू हो गई है.

1057IST  अब से कुछ क्षणों बाद प्रणब मुखर्जी लोक सभा में बजट पेश करेंगे.

1048IST  वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी बजट पेश करने के लिए संसद पहुँच गए हैं.

1046IST  वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ठीक 11 बजे लोक सभा में बजट पेश करेंगे.

1045IST महंगाई का मुद्दा वित्त मंत्री के एजेंडे पर होगा वहीं आर्थिक घाटा उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती होगा.

1043IST  बजट से पहले फ़ोटो सेशन में प्रणब ने कहा कि उनके पिटारे में क्या है, इसको वे संसद में स्पष्ट करेंगे.

1040IST  वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी आज संसद में क्या कहेंगे, इस पर पूरे देश की निगाहें टिकी हुई हैं.

1032IST  उद्योग जगत को उम्मीद है कि कॉरपोरेट टैक्स में कटौती होगी.

1025IST  आर्थिक सर्वेक्षण में वित्त मंत्री ने आर्थिक वृद्धि दर 9 फ़ीसदी तक बने रहने की संभावना जताई थी.

1022IST  आम आदमी उम्मीद कर रहा है कि महंगाई पर लगाम लगाई जाएगी.

1020IST  वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी लोक सभा में 11 बजे से आम बजट पेश करेंगे.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.