प्लेस्टेशन की कुछ सेवाएँ बहाल करेगी सोनी

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सोनी ने सुरक्षा में हुई चूक के लिए माफी भी माँगी है.

कंप्यूटर गेम 'प्लेस्टेशन' बनाने वाली कंपनी सोनी का कहना है कि वो प्लेस्टेशन की कुछ सेवाएँ फिर शुरु करेगी.

प्लेस्टेशन के सात करोड़ 70 लाख उपभोक्ताओं की निजी जानकारी चोरी हो जाने के इसे बंद कर दिया गया था.

सोनी कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि प्लेस्टेशन की सेवाओं का इस्तेमाल करने वालों के यूज़रनेम, इमेल जनकारी और लॉग इन जानकारी चोरी हो जाने के बाद उन्होने अपने कंप्यूटर तंत्र की सुरक्षा को बढ़ाया है.

सोनी की प्लेस्टेशन इकाई के प्रमुख काज़ूओ हिराई ने इस सुरक्षा चूक के लिए माफी भी माँगी.

इस तरह की जानकारी चोरी होने की वजह से ही सोनी कंपनी पर अमेरिका और यूरोप में क़ानूनी कारवाई भी हुई है.

सोनी की प्लेस्टेशन इकाई के प्रमुख काज़ूओ हिराई ने एक लिखित बयान में कहा “इन सेवाओं को दोबारा चालू करने के लिए हमने कड़ी मेहनत की है और इन सेवाओं के लिए कड़े सुरक्षा प्रावधानों की जाँच करने के बाद ही हमने इन सेवाओं को दोबारा शुरु किया है.”

सोनी की प्लेस्टेशन इकाई के प्रमुख काज़ूओ हिराई को ही भविष्य में सोनी के मुखिया के तौर पर देखा जा रहा है.

काज़ूओ हिराई ने कहा “ये गैरक़ानूनी हमले बड़े स्तर पर फैले साईबर सुरक्षा समस्याओं को रेखांकित करते है.”

इस बयान को जारी किए जाने के बाद संवादाता सम्मेलन के संबोधित करते हुए काज़ूओ हिराई और सोनी के दो अन्य अधिकारियों ने इस घटना के लिए माफी भी माँगी.

सोनी प्लेस्टेशन इस्तेमाल करने वालों को कुछ गड़बड होने के शुरुआती संकेत 20 अप्रैल को ही मिलने लगे थे जब ये सेवाएं बंद हो गई थी. सुरक्षा खामी की पूरी तस्वीर 27 अप्रैल के स्पष्ट हुई थी.

संबंधित समाचार