कच्चे तेल के दामों में गिरावट

कच्चे तेल के बैरल
Image caption गुरुवार को कच्चे तेल के दामों में तेज़ गिरावट दर्ज की गई.

विश्व बाज़ार में कच्चे तेल के दामों में भारी गिरावट दर्ज की गई है. कच्चे तेल के दाम में आई 10 प्रतिशत की ये कमी पिछले दो सालों में सबसे अधिक है.

हाल के महीनों में अरब जगत में राजनीतिक और सामाजिक अस्थिरता की वजह से तेल के दाम काफ़ी ऊंचे रहे हैं. लेकिन गुरुवार को ये ट्रेंड एकदम उलट गया.

लंदन के बाज़ार में कच्चे तेल (ब्रेंट क्रूड) के दाम 12 डॉलर गिरकर 110 डॉलर प्रति बैरल हो गए.

बीबीसी संवाददाता मार्क ग्रेगरी के अनुसार ये गिरावट अमरीका में बढ़ी बेरोज़गारी के आंकड़ों के बाद आई है.

अमरीका दुनिया में तेल की सबसे अधिक खपत वाली अर्थव्यवस्था है और बेरोज़गारी के आंकड़े आने के बाद ये संकेत मिले हैं कि वहां तेल की मांग अब उतनी नहीं होगी जितनी की उम्मीद जताई जा रही थी. कुछ जानकार इस गिरावट को ओसामा बिन लादेन की मौत के बाद तेल बाज़ार की प्रतिक्रिया से जोड़कर भी देख रहे हैं.

बीबीसी संवाददाता के अनुसार पिछले एक सप्ताह में कपास,चांदी और सोने जैसी जिन्सों के दाम भी गिरे हैं.

संबंधित समाचार