अमरीकी कर्ज़ संकट गहराया

ओबामा इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अगर दो अगस्त तक अमरीकी संसद कर्ज़ की सीमा नहीं बढ़ाती, तो मुमकिन है कि अमरीका कर्ज़ का भुगतान न कर पाए.

अमरीकी कर्ज़ संकट को कम करने और सरकार को वित्तीय घाटे से बचाने के लिए सत्तारुढ़ दल और विपक्ष के बीच बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकल पाया है.

अमरीकी संसद में विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी के नेता जॉन बोहेनर ने घोषणा की कि वो इस बातचीत से खुद को अलग कर रहे हैं.

उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार टैक्स बढ़ोत्तरी के विकल्प पर ज़ोर दे रही लेकिन वो सरकारी खर्चों में कटौती जैसे कठोर क़दम उठाने में नाकाम रही है.

इसके जवाब में राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि वो यह बात समझ नहीं पा रहे हैं कि विपक्षी दल के नेता ने करों में बढ़ोत्तरी और सरकारी खर्च में कटौती संबंधित सरकार के प्रस्ताव को क्यों नामंज़ूर कर दिया है.

अगस्त तक का समय

राष्ट्रपति ओबामा ने शनिवार को सीनेट के सदस्यों की एक बैठक बुलाई है जिसमें वो सरकार के पास मौजूद विकल्पों पर चर्चा करेंगे.

बीबीसी संवाददाता पॉल एडम्स के मुताबिक अर्थशास्त्रियों का कहना है कि दो अगस्त की समय सीमा तक अगर अमरीका अपने कर्ज़ का भुगतान नहीं किया तो राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसके विपरीत परिणाम होंगे.

इस संकट के मद्देनज़र सरकार और विपक्ष के बीच बातचीत का ये दौर भी बेनतीज़ा रहा.

राजस्व घटाने को लेकर रिपब्लिकंस और डेमोक्रेट्स के बीच चल रही बातचीत अब आख़िरी दौर में है. सीनेटरों के एक ग्रुप ने ख़र्चों में कटौती और टैक्स बढ़ाने का प्रस्ताव रखा था. सरकार के पास इस मुद्दे को सुलझाने के लिए अगस्त तक का समय है.

अगर दो अगस्त तक अमरीकी संसद कर्ज़ की सीमा नहीं बढ़ाती, तो ये संभावना है कि अमरीका कर्ज़ का भुगतान न कर पाए.

संबंधित समाचार