भारत में आसमान पर चढ़ा सोना

Image caption सोने के लगातार बढ़ते दाम की वजह से कम से कम लोग इस धातु की खरीददारी कर रहे हैं.

भारत में सोने का दाम रातों-रात तीन प्रतिशत बढ़ कर 26,198 रुपए प्रति दस ग्राम के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है.

सोमवार को वैश्विक बाज़ारों में मची अफ़रा-तफ़री के बीच सोने का दाम 25,000 प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया था.

आर्थिक विश्लेषकों का कहना है कि अक्तूबर में दीवाली के आसपास इस पीले धातु का दाम 27,000 तक पहुंच सकता है.

अगस्त के महीने में ही सोने के दाम में क़रीब 11 प्रतिशत का उछाल आया है.

अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में भारतीय मुद्रा की क़ीमत में भी गिरावट आई है जो पिछले 10 हफ़्तों में सबसे बड़ी गिरावट है.

क़ीमत

रुपये के मूल्यांकन का असर सीधे तौर पर सोने की क़ीमत पर पड़ता है.

मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में सोने में दो प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है और अब इसकी क़ीमत 1,750 डॉलर प्रति 28 ग्राम हो गई है.

कहा जा रहा है कि वैश्विक आर्थिक मंदी और अमरीका की रेटिंग में गिरावट का असर सोने के दाम पर भी पड़ा है.

वैश्विक बाज़ारों के इतिहास में ये पहली बार है कि सोने का दाम इतनी ऊंचे स्तर को छू गया है.

सोने के लगातार बढ़ते दाम की वजह से कम से कम लोग इस धातु की ख़रीददारी कर रहे हैं.

भारतीय लोग विश्व में सोने के सबसे बड़े खरीददार हैं.

संबंधित समाचार