ईसीबी के प्रमुख अर्थशास्त्री का इस्तीफा

जुर्गन स्ट्रॉक इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption जुर्गन स्ट्रॉक तीन साल बाद मई 2014 में सेवानिवृत्त होने वाले थे.

यूरोपियन सेंट्रल बैंक यानि ईसीबी की बांड खरीदने की योजना पर जारी अटकलों के बीच बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री जुर्गन स्ट्रॉक ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है.

बैंक ने कहा है कि स्ट्राक ने निजी कारणों से इस्तीफा दिया है. वे अपने उत्तराधिकारी के आने तक अपने पद पर बने रहेंगे.

इससे पहले इस साल फ़रवरी में एक्सल वेबर ने बैंक की यूरोज़ोन की सरकारों का कर्ज खरीदने की नीति को लेकर अपना पद छोड़ दिया था.

मतभेदों का असर

विश्लेषकों का कहना है कि स्ट्रॉक का इस्तीफ़ा जर्मनी में ईसीबी के दिशा-निर्देशों पर जारी मतभेदों को व्यक्त करता है.

इस बात की भी खबरें हैं कि स्ट्रॉक बैंक के अधिकारियों में किए गए फेरबदल से खुश नहीं थे.

स्ट्रॉक के इस्तीफे की खबर आते ही यूरोपीय शेयर बाजार में गिरावट देखी गई. बाजार की चिंता ये थी कि ईसीबी में मतभेदों से यूरोज़ोन के कर्ज़ संकट से निपटने की योजना को और कठिन बना देगा.

न्यूयार्क के शेयर बाज़ारों में भी गिरावट देखी गई. वहाँ के निवेशकों को आशंका है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा का नई नौकरियों के सृजन का प्रस्ताव कांग्रेस में शायद ही पास हो पाए.

स्ट्रॉक ने अपना कार्यकाल खत्म होने के तीन साल पहले ही इस्तीफा दे दिया है. उनका कार्यकाल मई 2014 में खत्म होने वाला था.

पिछले महीने कर्ज संकट से जूझ रहे यूरोजोन देशों के बांड खरीद कर उन्हें पुनर्जिवित करने की विवादास्पद फैसले के ख़िलाफ़ मतदान करने वाले ईसीबी के चार सदस्यों में स्ट्रॉक भी शामिल थे.

बाउंडस्बैंक के अध्यक्ष एक्सल वेबर ने बांड खरीदने की नीति के विरोध में ईसीबी बैक के अध्यक्ष पद की दौड़ से अपना नाम वापस ले लिया था. उन्हें अगले महीने जीन क्लाउड ट्रीशेट के सेवानिवृत्त होने के बाद अध्यक्ष पद का प्रवल दावेदार माना जा रहा था.

जर्मनी का जनदबाव

बॉन विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के प्रोफेसर मैनफ्रेड न्यूमान ने कहा, "यह उल्लेखनीय है. बांड खरीदने की योजना पर स्ट्रॉक और बुंडेस बैंक के अध्यक्ष एकेसल वेबर एक जैसा ही विचार रखते हैं."

प्रोफेसर न्यूमान कहते हैं, " ये केंद्रीय बैंक के भीतर की समस्याओं का एक संकेत है. जर्मनी के लोगों को ईसीबी के दिशा-निर्देशों से साफ़तौर पर समस्या है."

हाल के हफ़्तों में ईसीबी ने 35 बिलियन यूरो से अधिक के बांड खरीदे हैं.

जर्मनी के नेताओं पर लोगों का दबाव है, उन्हें लगता है कि वे कमजोर अर्थव्यवस्थाओं की वित्तीय मदद कर रहे हैं.

शुक्रवार को इस बात की खबरें आईं थीं कि जर्मनी के उप वित्तमंत्री जार्ज एम्यूसीन को स्ट्रॉक की जगह पर नियुक्त किया जाएगा.

संबंधित समाचार