बाज़ार में आया 242 अंक का उछाल

बीएसई का सूचकांक इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption बीएसई में सूचना प्रौद्यौगिकि कंपनियों के शेयर लाभ के साथ बंद हुए.

मुंबई शेयर बाज़ार के 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक में बुधवार को 242 अंक की वृद्धि दर्ज़ की गई. सूचकांक के 30 में से 24 शेयर लाभ के साथ बंद हुए.

बुधवार को बज़ार 16552.71 अंक पर खुला. शाम को बंद होते हुए यह 16,709.60 अंक पर था. इस तरह सूचकांक में 283.83 अंक या 1.72 फ़ीसदी की बढ़त हुई.

आईटी कंपिनयाँ लाभ में

कारोबार के दौरान सूचकांक का सबसे निचला स्तर 16,387.38 और सबसे ऊँचा स्तर 16,754.22 अंक तक चला गया था.

इसी तरह 50 शेयरों पर आधारित नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ़्टी भी 1.72 फ़ीसदी चढ़कर 5012.55 अंक पर बंद हुआ.

इस दौरान बाज़ार में आईटी सेक्टर के शेयरों की ख़रीद में तेज़ी देखी गई. आईटी के शेयरों वाले सूचकांक में 4.27 फ़ीसदी की वृद्धि दर्ज की गई.

आईटी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी इंफ़ोसिस के शेयरों में 5.78 फीसदी, विप्रो में 4.34 फ़ीसदी और टीसीएस के शेयरों में 2.24 फ़ीसदी की तेज़ी दर्ज की गई.

इस तरह मुंबई शेयर बाज़ार में पिछले तीन सत्रों से जारी गिरावट का दौरा थम गया. इन तीनों सत्रों के दौरान सूचकांक में सात सौ अंकों की गिरावाट आई.

विश्लेषकों का मानना है कि आईटी शेयरों में उछाल रुपए के मूल्य में डालर के मुक़ाबले आई गिरवाट की वजह से आया. बुधवार को रुपए की क़ींमत डॉलर के बदले 48.01 रुपए थी. यह रुपए का पिछले दो साल में सबसे निचला स्तर है.

भारत की सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनियों का क़रीब 85 फ़ीसदी राजस्व अमरीकी और यूरोपीय बाज़ारों से आता है.

संबंधित समाचार