मूडीज़ ने घटाई फ्रांसीसी बैंक की रेटिंग

Image caption मूडीज़ ने फ़्रांस के दो बैंकों की रेटिंग घटाई है

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज़ ने ग्रीस के ऋण संकट के प्रभाव का हवाला देते हुए फ्रांस के दो बैंकों की रेटिंग घटा दी है.

क्रेडिट एग्रीकोल बैंक की रेटिंग एएवन से घटा कर एएटू और सोसाइट जेनरेल की रेटिंग एएटू से एएथ्री कर दी गई है.

इनके साथ ही एक अन्य बैंक बीएनपी पारिबास की रेटिंग घटाने को लेकर उसकी समीक्षा की जा रही है.

इस बीच कर्ज़ अदायगी में ग्रीस की संभावित असमर्थता से बढ़ती आर्थिक चिंता पर विचार करने के लिए जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सारकोज़ी बुधवार को ग्रीस के प्रधानमंत्री जॉर्ज पापेंद्रू के साथ बैठक करने वाले हैं.

उधर, यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जोस मैनुएल बोरोसो ने कहा है कि यूरोज़ोन के 17 देशों के ऋण को यूरोबॉण्ड्स के ज़रिए सम्मिलित गारंटी देने के लिए वो एक प्रस्ताव पेश करेंगे.

बाज़ार में तनाव

मूडीज़ ने कहा है कि इन तीनों बैंकों की वित्तीय प्रणाली की कमज़ोरियों को भी समीक्षा में शामिल किया जाएगा क्योंकि ये बैंक अब भी बड़े पैमाने पर कर्ज़ बांटने पर ज़्यादा निर्भर करते हैं.

एजेंसी ने चेतावनी दी है कि अगर इन पहलुओं को समीक्षा में शामिल किया जाता है तो इन बैंकों की रेटिंग में और एक स्तर की गिरावट आ सकती है.

हाल के दिनों में यूरोपीय बैंकों के बीच कम अवधि के ऋण को लेकर समस्या बढ़ी है जबकि यूरोपीय बैंकों के शेयर में भी तेज़ गिरावट दर्ज की गई है.

फ़रवरी से लेकर अब तक क्रेडिट एग्रीकोल और सोसाइट जेनरेल के शेयर की क़ीमत में दो-तिहाई की गिरावट दर्ज की गई है जबकि बीएनपी के शेयर में पचास फ़ीसदी से ज्यादा गिरावट आई है.

सोमवार की सुबह मूडीज़ की घोषणा के बाद बीएनपी और सोसाइट जेनरेल के शेयर में 3.6 फ़ीसदी की गिरावट दर्ज की गई है जबकि क्रेडिट एग्रीकोल के शेयर में कोई बदलाव नहीं हुआ है.

Image caption रेटिंग घटने से बैंकों के कारोबार पर असर पड़ सकता है

हाल के दिनों में बीएनपी परिबास और सोसाइट जेनरेल ने बयान जारी कर ये स्पष्टीकरण दिया है कि ग्रीस और संकट का सामना कर रही यूरोज़ोन अर्थव्यवस्थाओं का बैंकों की सेहत पर कितना असर पड़ा है.

इन तीनों बैंकों की रेटिंग के लिए मूडीज़ 15 जून से ही इनकी समीक्षा कर रही थी और जिस तरह की रेटिंग की गई है उसका पहले से ही अनुमान लगाया जा रहा था.

फ़्रांस के केंद्रीय बैंक के प्रमुख क्रिस्चियन नोयर ने रेटिंग घटाने के फ़ैसले को तुलनात्मक रूप से अच्छी ख़बर बताया है.

उन्होंने कहा," फ़्रांस के बैंकों की रेटिंग काफ़ी अच्छी रही है. वैसी ही जैसी कि एचएसबीसी, बार्कलेज़, ड्यूश और क्रेडिट सुइस जैसे दूसरे बड़े यूरोपीय बैंकों की रही है.मूडीज़ की रेटिंग अन्य एजेंसियों के मुक़ाबले कठोर होती है."

हालांकि रेटिंग घटने से इन बैंकों पर दबाव बढ़ेगा क्योंकि अब कई निवेशक इन बैंकों और इनके शेयरों में सोचसमझ कर निवेश करेंगे.

संबंधित समाचार