अमीरों पर टैक्स बढ़ाने के पक्ष में ओबामा

बराक ओबामा इमेज कॉपीरइट AP
Image caption बराक ओबामा ने कहा है कि घाटा को कम करना ज़रूरी है

अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने राजस्व घाटे को कम करने के लिए अपनी योजना सामने रखी है. अपने भाषण में राष्ट्रपति ओबामा ने कहा है कि कॉरपोरेशंस और धनी लोगों को ज़्यादा टैक्स देना चाहिए.

बराक ओबामा अगले 10 वर्षों में तीन खरब डॉलर की बचत करना चाहते हैं, जिसमें से आधा टैक्स में बढ़ोत्तरी से हासिल किया जाएगा.

हालाँकि अमरीकी संसद के कई रिपब्लिकन सांसदों ने स्पष्ट किया है कि वे टैक्स में बढ़ोत्तरी के किसी भी प्रस्ताव का विरोध करेंगे.

टेलीविज़न पर दिए अपने संबोधन में बराक ओबामा ने कहा कि अगर सरकार कार्रवाई नहीं करेगी, तो आने वाली पीढ़ियों पर कर्ज़ का बोझ बढ़ता जाएगा.

मुश्किल

उन्होंने कहा कि धनी और कॉरपोरेशंस को राजस्व घाटे को कम करने के लिए अपने 'न्यायसंगत हिस्से' का टैक्स अदा करना चाहिए.

ओबामा ने कहा, "मध्य वर्ग को करोड़पतियों और अरबपतियों के मुक़ाबले ज़्यादा टैक्स नहीं देना चाहिए. इसके ख़िलाफ़ तर्क देना मुश्किल है. ये कोई वर्ग संघर्ष नहीं, बल्कि ये गणित है."

राष्ट्रपति ओबामा की योजना मंज़ूरी के लिए कांग्रेस की समिति के पास भेजी जाएगी. ये समिति पहले से ही बजट घाटे में से 1.5 खरब डॉलर की कटौती पर विचार कर रही है.

समिति को नवंबर तक 1.5 खरब डॉलर की बचत का रास्ता निकालना है और वो राष्ट्रपति के सुझाव को मानने के लिए बाध्य नहीं.

संबंधित समाचार