कोक करेगा भारत में दो अरब डॉलर का निवेश

  • 15 नवंबर 2011
कोका कोला की बोतलें इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption कोका कोला को भी भारत की बढ़ती अर्थव्यवस्था से काफ़ी लाभ हुआ है

सॉफ़्ट ड्रिंक्स बनाने वाली कंपनी कोका कोला भारतीय बाज़ार में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए अगले पांच साल में भारत में दो अरब डॉलर का निवेश करेगी.

कंपनी ने पिछले 18 साल में भारत में कुल जितना निवेश किया है, ये राशि उसके बराबर है.

बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए इस निवेश का कुछ भाग उत्पादन क्षमता और वितरण बढ़ाने के लिए इस्तेमाल होगा.

कोका कोला दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ़्ट ड्रिंक कंपनी है. कंपनी को उम्मीद है कि 2020 तक भारत उसके शीर्ष पांच बाज़ारों में से एक होगा.

कोका कोला इंडिया के अध्यक्ष अतुल सिंह ने कहा, "कंपनी के नवीनीकरण, साझेदारी और ब्रांड्स में निवेश करने की दीर्घकालीन प्रतिबद्धता है और ये निवेश उसी का हिस्सा है. इससे हम अपना व्यापार टिकाऊ और ज़िम्मेदार तरीके से बढ़ा सकेंगे."

उन्होंने आगे कहा, "भारत की जनसंख्या, यहां के आर्थिक और सामाजिक मापदंड, ये सभी विकास को बढ़ावा देते हैं और हम ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम इन मौकों का फ़ायदा उठा पाएंगे."

अहम बाज़ार

तेज़ी से बढ़ती अर्थव्यवस्था और पहले के मुक़ाबले में ज़्यादा समृद्ध मध्य वर्ग के चलते भारत आज दुनिया के सबसे तेज़ी से बढ़ते उपभोक्ता बाज़ारों में से एक है.

इसका फ़ायदा कोका कोला को भी हुआ है. कंपनी ने पिछली 21 तिमाहियों में से 15 में दस प्रतिशत या इससे ज़्यादा की विकास दर दर्ज की है.

कोका कोला के यूरेशिया और अफ़्रीका समूह के अध्यक्ष अहमद सी बोज़र कहते हैं कि कंपनी की दिलचस्पी भारत के बढ़ते बाज़ार का फ़ायदा उठाने की है.

उन्होंने कहा, "कंपनी का वर्ष 2020 तक अपनी आय और सेवाएं दुगुनी करने का लक्ष्य है और इसके लिए भारत एक अहम बाज़ार है."

बोज़र ने ये भी कहा, "अगर हम प्रतिदिन और हर बार सही कदम उठाएं तो मुझे हैरानी नहीं होगी कि इस दशक के अंत तक भारत हमारी कंपनी के लिए दुनिया के चोटी के पांच बाज़ारों में से एक होगा."

संबंधित समाचार