दवा कंपनी भरेगी 3 अरब डॉलर का हर्जाना

  • 3 जुलाई 2012
ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन की ओर से जारी किए गए एक बयान में कहा गया कि कंपनी अपने नगद स्रोतों से मुआवजे की रकम अदा करेगी.

अमरीका के इतिहास में अब तक के सबसे बड़े स्वास्थ्य सुरक्षा घोटाला मामले के निबटारे के लिए ब्रितानी दवा कंपनी ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन तीन अरब डॉलर का हर्जाना भरेगी.

ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन को बिना अनुमति प्राप्त किए दो दवाइयों का प्रचार प्रसार करने का दोषी पाया गया है. इसके अलावा कंपनी को डायबिटीज़ के इलाज के तौर पर इस्तेमाल की जाने वाली एक दवाई के सुरक्षा संबंधित आंकड़े अमरीका में स्वास्थ्य मामलों की निगरानी करने वाली संस्था फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन को नहीं दिए जाने का भी दोषी पाया गया है.

हर्जाने की इस रकम में तमाम पेनाल्टी, सरकारी शुल्क और नागरिक मुआवजे शामिल है.

इस दवा घोटाले में पैक्सिल, वेलबुटरिन और एवेंडिया नाम की दवाएं शामिल है.

अमरीका के डिप्टी अटॉर्नी जनरल जेम्स कोल ने वाशिंगटन में हुए एक पत्रकार वार्ता में कहा, “हर्जाने की रकम अप्रत्याशित है.”

डॉक्टरों को रिश्वत

दुनिया की सबसे बड़ी दवा कंपनियों में से एक ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन ने डिप्रेशन कम करने वाली दवाएं पैक्सिल और वेलबुटरिन को बिना अनुमति मिले ही इनके प्रचार-प्रसार करने की बात कबूली है.

ऐसा करना गैरकानूनी माना जाता है और इसे ऑफ-लेबल मार्केटिंग कहा जाता है.

ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन ने वो आरोप भी स्वीकार किए हैं जिनमें कहा गया था कि कंपनी ने मधुमेह की रोकथाम के लिए प्रयोग की जाने वाली दवाई एवेंडिया से स्वास्थ्य पर असर से संबंधित आंकड़े छुपाए और दवा से संबंधित झूठे दावे पेश किए.

एवेंडिया टैबलेट मोटापे के साथ जुड़े द्वितीय श्रेणी के मधुमेह के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है.

इस दवा का इस्तेमाल खास तौर पर वो मरीज करते है जो अपनी जीवनशैली में आसानी से परिवर्तन नहीं कर पातें हैं.

एवेंडिया से हृदयघात?

अकेले ब्रिटेन में इस दवा के एक लाख नौ हजार प्रयोगकर्ता है, जबकि विश्वभर में करीब 20 लाख लोग इसका सेवन करते है.

समझा जाता है कि एवेंडिया के इस्तेमाल से ह्रदयाघात की संभावना बढ़ सकती है, इसलिए साल 2000 में जब इस दवाई को बाजार में उतारे जाने की अनुमति दी गई था तो इसके साथ इसके खतरों के बारे में भी जानकारी दिए जाने की अनिवार्यता तय की गई थी.

इसके अलावा ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन को डॉक्टरों को रिश्वत देने का भी दोषी पाया गया है.

अमरीका के अटोर्नी कारमिन ओर्टिज़ ने कहा, “ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन के दवाईयों की मरीजों को संस्तुति करने के एवज में कंपनी के सेल्स दल ने डॉक्टरों को तमाम स्वरूपों में रिश्वत दी. नगद रुपयों से लेकर मैडोना के संगीत कार्यक्रम के टिकट और लंबी विदेश यात्राओं तक का प्रलोभन डॉक्टरो को दिया गया.”

मामले के निबटारे की शर्त के तौर पर सरकारी अफसर अगले पांच वर्षों तक कंपनी की निगरानी करेंगे.

ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन की ओर से जारी किए गए एक बयान में कहा गया कि कंपनी अपने नगद स्रोतों से मुआवजे की रकम अदा करेगी.

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एंड्रयू विटी ने कहा कि अमरीका में कंपनी के काम करने के तरीकों में बदलाव लाया जा रहा है, ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं नहीं हो.

एंड्रयू विटी ने कहा कि कंपनी ने अपनी गल्तियों से सबक लेते हुए गलत आचरण रखने वाले कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है.

संबंधित समाचार