गोपनीयता के उलंघन के लिए गूगल पर जुर्माना

  • 10 अगस्त 2012
गूगल लोगो इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption गूगल पर हुआ जुर्माना अमरीकी कमीशन द्वारा लगाए गए जुर्मानों में सबसे अधिक है.

इंटरनेट कंपनी गूगल को ग्राहकों के साथ किए गए गोपनीय क़रार के उलंघन के लिए सवा दो करोड़ डॉलर जुर्माना भरना पड़ेगा.

ये अमरीकी फ़ेडरल ट्रेड कमीशन के इतिहास में लगाया गया सबसे बड़ा जुर्माना है.

गूगल पर ये जुर्माना उन ग्राहकों को दिए गए वायदे के उलंघन के लिए लगाया गया है जो 'सफ़ारी वेब ब्राउज़र' का इस्तेमाल कर रहे थे.

कैलीफ़ोर्निया विश्वविद्यालय के कुछ शोधकर्ताओं ने कमीशन से शिकायत कर आरोप लगाया था कि गूगल ने दूसरे यूज़र्स सफ़ारी वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करने वाले की इंटरनेट गतिविधियों पर नज़र रख पा रहे हैं.

उनका कहना था कि गूगूल ने इसके लिए विशेष वेब ब्राउज़र के ग्राहकों ने अनुमति नहीं ली थी.

गूगल ने ग्राहकों से वायदा कर रखा था कि ग्राहकों की गतिविधियों को गुप्त रखा जाएगा.

गूगल ने कहा है कि जुर्माना भरने का मतलब ये नहीं समझा जाना चाहिए कि वो जुर्म क़बूल कर रहा है.

संबंधित समाचार