हज़ारों अधिकारियों का निजी नंबर सार्वजनिक

चीन इमेज कॉपीरइट AP
Image caption चीन में आम लोगों की शिकायत है कि अधिकारी उनकी परेशानियों के प्रति बेपरवाह रहते हैं.

चीन के शहर चंग्सा में शासन ने पाँच हज़ार से अधिक सरकारी अधिकारियों के नंबर सार्वजनिक कर दिए हैं ताकि लोग उन तक अपनी बात पहुँचा सकें.

सरकार ने दो 24 घंटे चलने वाली हॉट लाइनों को भी शुरू किया है जहाँ लोग उन अधिकारियों की शिकायत कर सकें जो फ़ोन नहीं उठाते.

दक्षिणी चीन के शहर चंग्सा में शासन प्रशासन पर काबिज़ किसी भी आदमी का चुनाव नहीं हुआ है. पर लोग अब इन निचले से लेकर शीर्ष अधिकारियों तक से सीधे फोन कर उन्हें अपनी शिकायतें दर्ज करा सकते हैं. तमाम अधिकारियों के नंबरों को अखबारों में छपवा दिया गया.

शहर के सर्वोच्च अधिकारियों का कहना है कि उनका कदम यह दर्शाता है कि अधिकारी दरअसल जनता की सेवा करने के लिए हैं.

स्थानीय टेलीविज़न चैनलों ने इन नंबरों के सार्वजनिक होने के बाद ऐसी कई खबरें दिखाईं जहाँ आम नागरिक अधिकारियों से फोन पर बात करते हुए देखे जा सकते थे.

पर कई स्थानीय पत्रकारों का कहना है कि अधिकारी अब भी आम लोगों के फोन नहीं उठा रहे.

चीन में सरकारी अधिकारियों द्वारा जनता को दी जा रही सेवाओं के हालात बहुत अच्छे नहीं हैं.

चूंकि मीडिया स्वतंत्र नहीं है और एक ही पार्टी का देश में शासन है इसलिए अधिकारियों का ज़्यादा से ज़्यादा ध्यान चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेताओं को प्रसन्न रखने में जाता है.

चीन में ज़्यादातर आम लोगों की शिकायत है कि अधिकारी उनकी परेशानियों के प्रति लापरवाह ही रहते हैं.

संबंधित समाचार