चीन: जमीन पर 'अधिकारियों के कब्जे' का विरोध

  • 17 फरवरी 2012
इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption चीन में ज़मीन संबंधी मामलों पर असंतोष कई क्षेत्रों में फैला हुआ है

चीन के सरकारी मीडिया के अनुसार पूर्वी चीन के एक गांव में जमीन पर सरकारी अधिकारियों के कथित कब्जे के बाद भीषण विरोध प्रदर्शन हुए हैं.

इन प्रदर्शनों के बाद अनेक लोगों को हिरासत में ले लिया गया है और इन घटनाओं को कवर कर रहे दो विदेशी पत्रकारों पर भी हमला हुआ है.

बीबीसी के मार्टिन पेशेंस के अनुसार पूर्वी चीन के जेजियांग प्रांत के पान्हे में गांववालों ने इस महीने अनेक बार प्रदर्शन किए.

उनका आरोप था कि स्थानीय अधिकारियों ने उनकी जमीन पर अवैध तरीके से कब्ज़ा किया है. उन्होंने पुलिस को गांव में आने से रोकने के लिए अवरोध भी खड़े किए.

चीन के विदेशी संवाददाताओं के क्लब ने एक बयान जारी कर कहा है कि इन घटनाओं को कवर कर रहे दो विदेशी पत्रकारों की पिटाई हुई है. बयान में ये भी आरोप लगाया गया है कि ऐसा प्रतीत होता है कि हमलावर सादा कपड़ों में पुलिसवाले थे.

अब आ रही ख़बरों के मुताबिक गांववालों और प्रशासन के बीच इस विवाद को खत्म करने के लिए सहमति बन गई है.

लेकिन प्रदर्शनों से सामने आया है कि चीन के ग्रामीण क्षेत्र में किस तरह से असंतोष फैला हुआ है.

इस घटना के बाद पिछले साल के वुकान विद्रोह का भी जिक्र हो रहा है. दक्षिणी चीन के वुकान के निवासियों ने प्रशासन के विरुद्ध विद्रोह किया था और चीन में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के वरिष्ठ अधिकारियों के मदद की गुहार लगाई थी.

इस असर हुआ था और उन गांववालों को रियायतें दी गई थीं.

संबंधित समाचार