‘राष्ट्रद्रोह विवाद’ पर चीन के वरिष्ठ नेता की छुट्टी

बो जिलाई इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption बो जिलाई ने पुलिस प्रमुख विवाद पर कहा कि उन्होंने गलत आदमी पर भरोसा कर लिया था.

चीन की राजनीति के अहम शख्सियतों में से एक बो जिलाई को एक घोटाले के मामले के बाद चोंगकिंग के कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख के पद से हटा दिया गया है.

चीन में साल के अंत में होने वाले नेतृत्व परिवर्तन के लिए जिलाई को अहम उम्मीदवार माना जा रहा था.

लेकिन पिछले महीने जब उनके प्रांत के पुलिस प्रमुख ने अमरीकी दूतावास में एक रात बिताई, तो इस पर खूब विवाद उठा.

संवाददाताओं के अनुसार बो जिलाई की विचारधारा पश्चिमी देशों की विचारधारा से मिलती जुलती है.

चीन की सरकारी मीडिया शिन्हुआ के मुताबिक उप प्रधान मंत्री झांग देजियांग निष्कासित बो जिलाई की जगह लेंगे.

चीन ने ये कदम देश के सालाना संसदीय बैठक खत्म होने के एक दिन बाद उठाया है. इसी दौरान एक बैठक में जिलाई की अनुपस्थिति से लोग उनके भविष्य को लेकर कयास लगा रहें थे.

चुप्पी तोड़ी

लंबी चुप्पी के बाद जिलाई ने संसदीय बैठक के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए पुलिस प्रमुख वांग लिजुन से संबंधित विवाद पर अपना स्पष्टीकरण दिया.

जिलाई ने कहा कि उन्होंने नहीं सोचा था कि वांग फरार हो जाएंगे, ये सब अचानक हुआ.

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि मैने एक गलत आदमी पर विश्वास किया.”

बो के निष्कासन की रिपोर्ट बाद शिन्हुआ ने एक और रिपोर्ट में कहा कि वांग को भी चोंगकिंग के उप महापौर के पद से निलंबित कर दिया गया है.

चेंगडू शहर के अमरीकी दूतावास में वांग के दौरे के बाद उनको लेकर कई तरह की बाते कही गई, ये भी कहा गया कि वो राष्ट्रद्रोह करने वाले है. सरकारी मीडिया ने कहा था कि वांग थकान मिटाने के लिए वहां गए.

चोंगकिंग में संगठित अपराध के खिलाफ अभियान चलाकर नाम कमाने वाले वांग और उनके वरिष्ठ के खिलाफ इस विवाद के चलते पुलिस जांच की गई.

चीन के प्रधान मंत्री वेन जियाबाओ ने बुधवार को एक पत्रकार सम्मेलन में कहा कि जांच प्रगति पर है, हालांकि उन्होंने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी.

बो जिलाई को हटाए जाने की खबर के बाद विवाद पर लोगों की प्रतिक्रिया आना जारी है. जिलाई के निष्कासन की खबर तेजी से फैली जिसके बाद हजारों लोगों ने माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट विबो पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी.

संबंधित समाचार