किडनी के बदले आईपैड मामले में गिरफ्तारियां

  • 7 अप्रैल 2012
इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption चीन में एप्पल के आईफोन और आईपैड बहुत लोकप्रिय हैं लेकिन इनकी कीमत आम लोगों की पहुंच के बाहर है

दक्षिणी चीन में आईपैड खरीदने के लिए किडनी बेचने के एक मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

चीन के सरकारी मीडिया के अनुसार, गिरफ्तार किए गए लोगों में वो सर्जन भी शामिल है जिसने बीते साल ऑपरेशन करके एक लड़के की किडनी निकाली थी.

समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, इस किडनी के प्रतिरोपण के लिए 35,000 डॉलर लिए गए थे.

अभियोजकों का कहना है कि जिस छात्र की किडनी निकाली गई थी, उसकी तबीयत अब बिगड़ रही है.

इस छात्र की पहचान केवल उसके उपनाम वांग से हो पाई है. बताया जाता है कि किडनी के बदले उसे लगभग 3000 डॉलर दिए गए थे.

आईपैड का जुनून

इस छात्र की उम्र 17 वर्ष है और समझा जाता है कि मानव अंगों का अवैध व्यापार करने वालों ने इंटरनेट के जरिए उससे सम्पर्क साधा था.

इस मामले का पता तब चला जब छात्र की मां ने उसके पास नए इलेक्ट्रॉनिक गजेट्स देखे. मां के पूछने पर उसने बताया कि किडनी बेचने से मिले पैसों से उसने ये चीजें खरीदीं.

छात्र का ऑपरेशन करने वाले सर्जन और इससे जुड़े अन्य लोगों पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने मानव अंगों के अवैध व्यापार के लिए इरादतन इस हरकत को अंजाम दिया.

चीन में एप्पल के आईफोन और आईपैड बहुत लोकप्रिय हैं जिनकी कीमत ज्यादातर शहरी कामकाजी लोगों की पहुंच से बाहर है. वहीं चीन में मानव अंगों का दान करने वालों की भारी कमी है.

देश के स्वास्थ्य मंत्रालय के आधिकारिक आंकड़ें बताते हैं कि लगभग 15 लाख लोगों को अंगों के प्रतिरोपण की जरूरत है.

चीन में आमतौर पर उन कैदियों के अंगों का इस्तेमाल किया जाता है जिन्हें मौत की सजा दी जाती है. लेकिन पिछले महीने ही चीन ने इसे अगले पांच वर्षों के लिए बंद करने का फैसला किया था.

संबंधित समाचार