घर ढहाने के विरोध में खुद को उड़ाया

चीन इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption चीन में हाल के दिनों में जमीन और मकान अधिग्रहण को लेकर कई विवाद सामने आए हैं

चीन में एक महिला ने अपना घर ढहाए जाने के विरोध में विस्फोटक लगाकर खुद को उड़ा लिया है. खबरों के मुताबिक दो और लोगों की भी मौत हो गई है जबकि 14 घायल हो गए हैं.

सरकारी मीडिया का कहना है कि धमाका तब हुआ जब महिला एक सरकारी दफ्तर में अधिकारियों से घर ढहाए जाने के लिए मुआवजे के लिए बातचीत कर रही थीं.

घटना यूनान सूबे की है.

संवाददाताओं का कहना है कि घटना उस तनाव का उदाहरण है जो चीन की तेजी से हो रही प्रगति के बीच समाज में व्याप्त है.

एक स्थानीय अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा है, "हमने मामले की जांच शुरू कर दी है. हम फिलहाल आपको कुछ नहीं बता सकते हैं लेकिन तीन लोगों की मौत हो गई है, 14 घायल हैं."

पहली घटना नहीं

अधिकारी का कहना था कि इनमें से चार लोग बुरी तरह से घायल हैं और उन्हें अस्पताल में भरती करवाया गया है.

बीजिंग से बीबीसी संवाददाता मार्टन पेशेंस का कहना है, "चीन में स्थानीय अधिकारी अक्सर घरों को ढहाते हैं या जमीनों का अधिग्रहण किया जाता है लेकिन लोगों को उसके बदले किसी तरह का मुआवजा नहीं दिया जाता."

पिछले साल चीन में एक कानून पास किया गया है जिसके बारे में राजनीतिज्ञों का कहना था कि वो नागरिकों के अधिकारों की रक्षा बेहतर तरीके से कर सकेगा.

उनका कहना था कि अधिकारी लोगों को घर या जमीन छोड़ने के लिए मजबूर नहीं कर सकेंगे.

संवाददाताओं का कहना है कि हालांकि गुरुवरा जैसी घटना चीन में पहले भी हुई हैं पर ऐसी घटनाएँ कभी-कभार ही होती हैं.

इसी साल जमीन के एक विवाद में हुए एक आत्मघाती हमले में पांच लोगों की मौत हो गई थी.

संबंधित समाचार