टॉम क्रूज़ का एक और एक्शन भरा धमाल

इमेज कॉपीरइट PARAMOUNT PIVYURES

'जैक रीचर - नेवर गो बैक' में एक्शन सीक्वेंस देखकर लगता ही नहीं कि 54 साल का एक अदाकार अपने से आधी उम्र के लोगों के साथ काम करने की कोशिश कर रहा है.

हॉलीवुड के एवरग्रीन हीरो टॉम क्रूज़ अपने एक और एक्शन अवतार में फ़िल्म में दिखे हैं और पिछली फ़िल्मों से बेहतर लग रहे हैं.

नेवर गो बैक 2012 में आई फ़िल्म जैक रीचर का सिक्वेल है.

कहानी में मिलिट्री पुलिस के रिटायर मेजर जैक रीचर की महिला मित्र मेजर टर्नर को जासूसी के आरोप में गिरफ़्तार किया गया है.

जैक को भी इसमें फ़ंसा लिया गया है क्योंकि वो इस मामले में एक आरोपी हैं. क्यों? कैसे?

यही फ़िल्म का सस्पेंस है. हम भी सस्पेंस को बरक़रार रखेंगे. लेकिन इतना बता दें जिस तरह आप सलमान की एक्शन फ़िल्म से बोर होकर बाहर नहीं निकलते वैसे ही आप यहां भी बोर नहीं होंगे.

मसलन एक दृश्य है जहां टॉम अपना पीछे कर रहे दो जासूसों को पलक झपकते ही पकड़ लेते हैं. आप वाक़ई पलक झपका पाएं इससे पहले ही टॉम हरकत में आ जाते हैं.

वो वाक़ई पूर्व सेना अधिकारी लगते हैं. अच्छी बात यह है कि एक्शन में आपको बनावटीपन नहीं दिखता.

इमेज कॉपीरइट PARAMOUNT PICTURES

टॉम को दर्द होता है, उनकी बॉडी सिक्स पैक वाली नहीं बल्कि रिटायर्ड सैनिक की तरह ढली हुई है, वो गोली लगने से डरते हैं, गोली को चाकू से चीरते नहीं!

फ़िल्म में फ़ेमिनिज़्म के कई पहलुओं को बारीकी से दिखाया गया है.

टॉम की साथी मेजर टर्नर (कोबी सम्लडर्स) का किरदार लगातार लिंगभेद की मानसिकता पर चोट करता रहता है. वो पूरी फ़िल्म में एक सशक्त किरदार में हैं न कि एक शोपीस की तरह.

फ़िल्म काफ़ी तेज़ है, आपको बोर नहीं करती और बनावटी एक्शन नहीं है, हां एक कमी है, वो ये कि आपको शुरू से मालूम रहता है कि कौन विलेन है और कौन हीरो.

फ़िल्म का सबसे बड़ा सरप्राईज़ है, फ़िल्म के पहले शुरू होने वाला एक ट्रेलर जिसमें आपको हॉलीवुड के सुपरस्टार ब्रैड पिट भी नज़र आएंगे.

लेकिन अब, फ़िल्म की सबसे बड़ी कमी, जैक रीचर एक नॉवेल पर आधारित फ़िल्म है और टॉम, जैक रीचर के किरदार के अलावा एक और एक्शन किरदार, एजेंट ईथन हंट को मिशन इंपॉसिबल में भी निभाते रहे हैं.

जहां ईथन हर काम सुपरमैन की तरह करता है वहीं जैक एक सामान्य आदमी है जो छिपकर, पिटकर, लड़कर काम करता है.

आप किसी किसी दृश्य में कन्फ़्यूज़ हो सकते हैं कि आखिर टॉम को क्या हो गया है? उन्हें कूद कर चोट क्यों लग रही है? लेकिन फिर आपको ध्यान आता है कि ओह! यह एक अलग फ़िल्म है.

यह फ़िल्म मनोरंजक है इसमें कोई शक़ नहीं. लेकिन आप इसे देखने तभी जाएं जब आप पुराने क्रूज़ फ़ैन हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)