'डैडी' से खुश है गैंगस्टर की बेटी

  • सुनीता पाण्डेय
  • मुंबई से, बीबीसी हिंदी के लिए
डैडी

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

विवादों में रहे किसी शख्स पर बनी फ़िल्म आम तौर पर रिलीज़ से ही पहले विवादित हो जाती हैं. लेकिन साल 2017 में रिलीज होने जा रही फ़िल्म 'डैडी' इसका अपवाद है.

फ़िल्म 'डैडी' डॉन अरुण गवली पर बनी है. एक वक्त सहयोगी उन्हें 'डैडी' पुकारते थे.

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

हाल ही में इस फ़िल्म का टीज़र लॉन्च किया गया, जहां अरुण गवली के पूरे परिवार को विशेष रूप से आमंत्रित किया गया था.

बीबीसी से ख़ास बातचीत में अरुण गवली की बेटी गीता गवली ने टीज़र पर खुशी ज़ाहिर करते हुए कहा, "इस फ़िल्म को देखकर 'डैडी' को लेकर लोगों के नजरिए में ज़रूर बदलाव आएगा."

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

अरुण गवली ने अंडरवर्ल्ड से राजनीति का रुख किया और विधायक भी चुने गए. वो साल 2004 से 2009 तक निर्वाचित विधायक रहे.

साल 2009 में गवली ने जेल में रहते हुए विधानसभा चुनाव लड़ा. उनकी पार्टी अखिल भारतीय सेना (एबीएस) के सभी अन्य 20 उम्मीदवारों को भी हार का सामना करना पड़ा.

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

कई बार हत्या, जबरन वसूली और अपहरण जैसे विभिन्न मामलों को लेकर गिरफ्तार हो चुके अरुण गवली हर बार छूटकर आ जाते थे.

लेकिन साल 2008 में शिवसेना पार्षद कमलाकर जमसांदेकर की हत्या मामले में अरुण गवली को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई और वो अभी भी नागपुर जेल में हैं.

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

इमेज कैप्शन,

अरुण गवली फाइल फोटो

निर्देशक असीम अहलूवालिया की इस फ़िल्म में अभिनेता अर्जुन रामपाल मुख्य भूमिका निभा रहे हैं.

अर्जुन को लेकर गीता गवली का कहना है, "उन्होंने इस रोल पर काफ़ी मेहनत की है. उनका लुक भी डैडी से काफ़ी मिलता जुलता है. इस रोल के लिए अर्जुन रामपाल सबसे सही चुनाव हैं. दोनों में काफ़ी समानता दिखाई दे रही है."

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

इस रोल को लेकर अर्जुन रामपाल ने अरुण गवली से जेल में मुलाक़ात की थी.

इस वज़ह से उन्हें मुंबई पुलिस ने समन भेजा था और अर्जुन को मुंबई पुलिस के सामने सफाई भी देनी पड़ी थी.

इस फ़िल्म में अरुण गवली से जुड़ी सच्ची घटनाओं को केवल पार्श्व में ही दिखाया गया है जबकि गवली के चरित्र को गढ़ने में निर्देशक ने अपनी कल्पना का पूरा सहारा लिया है.

इमेज स्रोत, Crispy Bollywood

गीता गवली के मुताबिक़, "निर्देशक ने डैडी को फ़िल्म में किस तरह दिखाया है, यह तो फ़िल्म देखने के बाद ही पता चलेगा. फ़िलहाल टीज़र देखकर कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता."

लेकिन गीता को उम्मीद है कि निर्देशक ने फ़िल्म में गवली के साथ पूरा न्याय किया होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)